आज सीटू जिला कमेटी की बैठक चंबा में संपन्न हुई। जिसकी अध्यक्षता जिला अध्यक्ष नरेंद्र ने की। बैठक में सीटू हिमाचल प्रदेश राज्य महासचिव प्रेम गौतम शामिल रहे। बैठक में आंगनबाड़ी , मिड डे मील, हाइड्रो प्रोजेक्ट यूनियन, रेहड़ी फड़ी, आउटसोर्स वर्कर यूनियन, बिजली बिजली मजदूर एकता यूनियन के पदाधिकारी शामिल रहे।

बैठक को संबोधित करते हुए राज्य महासचिव प्रेम गौतम ने कहा कि सरकार लगातार देश की जनता पर आर्थिक बोझ डाल रही है हर दिन महंगाई आसमान छू रही है डीजल पेट्रोल व अन्य कीमतें आसमान छू रही हैं। सरकार लगातार पूंजीपतियों के हित में नीतियां बना रही है और सार्वजनिक उपक्रमों को निजी हाथों में बेचा जा रहा है। कृषि कानूनों को पूंजी पतियों के पक्ष में बदलने और कृषि को मुनाफे के लिए तैयार करने के लिए कानून बनाए गए हैं। जिसमें देश में कृषि को खत्म करने व कृषि का निजीकरण कर कॉर्पोरेट लूट को बढ़ाने का काम किया जा रहा है। एक तरफ जनता पर आर्थिक बोझ डाला जा रहा है और दूसरी ओर और पेट हस्तियों को लाखों करोड़ों रुपए के टैक्स में छूट दी जा रही है।

देश के मजदूर वर्ग को गुलामी की ओर धकेलने के लिए 44 श्रम कानून में बदलाव करके उन्हें चार कोड में समाहित कर दिया है। श्रम कानूनों में बदलाव होने के बाद देश में मजदूर वर्ग गुलामी की स्थिति में आ जाएगा।
श्रम कानून 9 में बदलाव के विरोध में सीटों हिमाचल प्रदेश राज्य कमेटी 10 तारीख से मजदूरों को लामबंद करते हुए जत्था अभियान चलाएगी। सीटू राज्य कमेटी मज़दूरों को लामबंद करते हुए हजारों की संख्या में 17 मार्च 2021 को विधानसभा का घेराव करेगी ताकि इन मजदूर विरोधी नीतियों को रोका जा सके वह जनहित में कानून बनाए जा सके।

आंगनवाड़ी वर्कर्स यूनियन 9 मार्च को अपनी मांगों को लेकर विधानसभा का घेराव करेगी। जिसमें मुख्य रुप से आंगनबाड़ी केंद्रों को नर्सरी स्कूल का दर्जा दिया जाए वह आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को नर्सरी टीचर का दर्जा दी जाए।आंगनवाड़ी कर्मियों को सरकारी कर्मचारी घोषित किया जाए। आंगनवाड़ी कर्मियों को न्यूनतम वेतन ₹21000 दिया जाए।

बैठक में जिला में चल रही विद्युत परियोजनाओं में ही रही श्रम कानूनों की अवहेलना पर भी चर्चा की गई। कुठेड प्रोजक्ट यूनियन (JSW) के अध्यक्ष शोभन और सचिव सुरेश ने कहा कि वहां भी यही स्थिति है। श्रम कानूनों की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं।

श्रम कानूनों को लागू करवाने के लिए आने वाले समय में जेएसडब्ल्यू के मजदूरों को लामबंद करते हुए संघर्ष किया जाएगा। बैठक में इन प्रदर्शनों को सफल बनाने की योजना बनाई गई और आव्हान किया कि इन प्रदर्शनों में सभी कार्यकर्ता बढ़-चढ़कर भाग ले। बैठक में बाजोली होली प्रोजक्ट से विपिन, परमेश्वरी,दर्शन,बर्फी राम शामिल रहे। मिड डे मील वर्कर यूनियन से शमशुद्दीन चेतराम जगदीश कुमार शामिल रहे। इसी के साथ बैठक में सीटू जिला सचिव सुदेश ,मंगल सिंह, राकेश ,परमेश्वरी, तरसेम ,सुनील, अनिल शामिल रहे।

By RIGHT NEWS INDIA

RIGHT NEWS INDIA We are the fastest growing News Network in all over Himachal Pradesh and some other states. You can mail us your News, Articles and Write-up at: News@RightNewsIndia.com

error: Content is protected !!