Right News

We Know, You Deserve the Truth…

भंगवार गांव में घटना के बाद हरकत में आई सरकार, प्रोटोकॉल के तहत कोरोना मृतकों का अंतिम संस्कार करने के दिए निर्देश

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सभी जिलाधीशों को कोरोना संक्रमित मृतकों के अंतिम संस्कार को उचित प्रोटोकॉल के तहत करने के निर्देश दिए हैं। शहरी क्षेत्रों में इसके लिए संबंधित नगर आयुक्त, शहरी स्थानीय निकायों के कार्यकारी अधिकारी तथा सचिव नोडल अधिकारी होंगे। इसी तरह ग्रामीण क्षेत्रों में खंड विकास अधिकारी (बीडीओ) अपने संबंधित क्षेत्रों में नोडल अधिकारी होंगे। इस कार्य के लिए अस्पतालों तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को पर्याप्त पीपीई किट, डैड बॉडी बैग, डिसइंफैक्टैंट्स, सैनिटाइजर और वेस्ट डिस्पोजेबल बैग आदि प्रदान किए जाएंगे ताकि प्रोटोकॉल के अनुसार अंतिम संस्कार करने वाले व्यक्तियों को यह सभी सामग्री उपलब्ध करवाई जा सके। जिलाधीशों को दिशा-निर्देशों पर अमल करने को कहा
खंड विकास अधिकारियों को अस्पतालों, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, पंचायतों, पंचायत सचिवों और पटवारियों के साथ समन्वय से कार्य करने को कहा गया है ताकि मृतक के अंतिम संस्कार में शोक संतप्त परिवारों को कोई असुविधा न हो। हालांकि इस संबंध में पहले ही गत 12 मई को दिशा-निर्देश जारी किए जा चुके हैं, लेकिन कांगड़ा जिला के रानीताल से लगते भंगवार गांव में कोरोना संक्रमित मृतक महिला के अंतिम संस्कार से प्रशासन सहित स्थानीय लोगों के दूरी बनाए रखने की घटना के बाद नए सिरे से जिलाधीशों को दिशा-निर्देशों पर अमल करने को कहा है।

विधायक मृत व्यक्ति के परिवारों से संपर्क बनाएं
मुख्यमंत्री ने विधायकों से मृतक व्यक्ति के पारिवारिक सदस्यों के साथ संपर्क बनाने का आग्रह किया, ताकि इस मुश्किल घड़ी में उनका मनोबल बढ़ाया जा सके। उन्होंने मृतक के अंतिम संस्कार से संबंधित सभी मुद्दों के निवारण के लिए नोडल अधिकारियों को उचित संचार तथा सूचना माध्यमों को सुनिश्चित करने के लिए भी कहा। उधर मुख्यमंत्री के साथ देर सायं भाजपा नेताओं ने वीडियो कॉन्फ्रैंस से हुई बैठक में मुख्यमंत्री ने सभी भाजपा विधायकों एवं पार्टी कार्यकर्ताओं से कोरोना संक्रमण के कारण मृतक लोगों के अंतिम संस्कार में हरसंभव मदद करने को कहा।

संकट के समय लोग इनसे करें संपर्क
जयराम ठाकुर ने कहा कि मृतक के परिजनों को संकट के समय में किसी भी तरह की सहायता के लिए शहरी निकायों के अधिकारियों, कार्यकारी अधिकारियों, सचिवों तथा ग्रामीण क्षेत्रों में संबंधित पंचायत सचिवों व पटवारियों से संपर्क करना चाहिए। उन्होंने सामाजिक, धार्मिक तथा गैर-सरकारी संस्थाओं से कोविड-19 के कारण मृत व्यति के अंतिम संस्कार में शोक संतप्त परिवार के सदस्यों को पूरा सहयोग प्रदान करने का भी आग्रह किया है।

error: Content is protected !!