दुनियाभर में गूगल की सर्विसेस सोमवार शाम करीब 40 मिनट तक क्रैश रहीं। लॉगइन और एक्सेस में परेशानी भारतीय समय के मुताबिक, शाम करीब 5.26 बजे शुरू हुई और शाम 6.06 पर री-स्टोर हुईं। इस दौरान गूगल की 19 सर्विसेस ठप रहीं। गूगल ने अभी तक इस परेशानी पर कोई कमेंट नहीं किया है।

डेटा के मुताबिक, यू-ट्यूब पर 60 सेकंड में 500 घंटे का डेटा अपलोड होता है यानी 40 मिनट की परेशानी के दौरान इस सर्विस पर 20 हजार घंटे का डेटा अपलोड नहीं हो पाया और उसे करीब 9.41 करोड़ का नुकसान हुआ। यूट्यूब एक मिनट में करीब 32 हजार डॉलर यानी करीब 23.53 लाख रुपए कमाता है। इस दौरान करीब 50 लाख करोड़ यूजर्स ई-मेल भी नहीं भेज सके।ब्रिटेन के मिरर अखबार के मुताबिक, दुुनिया में 54% लोग यूट्यूब को एक्सेस नहीं कर सके। 42% लोग वीडियो नहीं देख पाए और 3% लोग लॉगइन ही नहीं कर पाए। इसके अलावा जीमेल पर 75% लोग लॉगइन नहीं कर पाए और 15% लोग वेबसाइट ही एक्सेस नहीं कर पाए। इसके अलावा 8% लोगों को मैसेज नहीं रिसीव हुए। गूगल की हैंगआउट, गूगल फॉर्म, गूगल क्लाउड, गूगल ड्राइव, गूगल डॉक्स की सर्विसेस भी क्रैश हो गई हैं। इससे पहले 20 अगस्त को भी गूगल की सभी सर्विसेस क्रैश हो गई थीं।

दुनियाभर में जीमेल के करीब 180 करोड़ से ज्यादा यूजर्स हैं। उसके पास 2020 में ईमेल सर्विस का 43% मार्केट शेयर है। वहीं, 27% लोग फोन से ईमेल करते हैं। ईमेल के एक्सेस के लिए 75% से ज्यादा लोग फोन का यूज करते हैं। 2020 में हर दिन 306.4 बिलियन ईमेल सेंड और रिसीव्ड किए गए हैं। यूट्यूब के 200 करोड़ से ज्यादा यूजर्स हैं। यूट्यूब ने कहा कि हम दुनियाभर में आई इस परेशानी के बारे में जानते हैं और हमारी टीम लगातार इस पर नजर बनाए हुए है। जल्द ही इस संबंध में आपको अपडेट किया जाएगा।

कुछ रोचक तथ्य आज के गोगल डाउन को लेकर;

गूगल सर्विसेस क्रैश होने के 40 मिनट के दौरान 13 लाख ट्वीट इस प्रॉब्लम को लेकर किए गए।

दुनियाभर में 60 लाख कंपनियां गूगल की जी सूट सर्विस यानी गूगल वर्क प्लेस का इस्तेमाल करती हैं।

टेक एक्सपर्ट्स के मुताबिक, सर्विस डाउन होने की स्थिति में यूट्यूब को इनकॉग्नीटो मोड यानी प्राइवेट ब्राउजिंग के जरिए एक्सेस किया जा सकता है।

गूगल सर्विस क्रैश होने से उन ऐप्स को भी ऑपरेट करने में परेशानी आई, जिनमें एक्सेस जीमेल के जरिए ही होता है।

गूगल सर्विस ठप होने पर भी जब हमने गूगल सर्च इंजन पर सर्च किया कि is google is down? तो जवाब मिला- नहीं। इस बारे में करीब 5.59 अरब रिजल्ट दिखाई दे रहे थे।

By RIGHT NEWS INDIA

RIGHT NEWS INDIA We are the fastest growing News Network in all over Himachal Pradesh and some other states. You can mail us your News, Articles and Write-up at: News@RightNewsIndia.com

error: Content is protected !!