मंडी के गोहर से स्वस्थ भारत अभियान की सच्चाई

Read Time:4 Minute, 30 Second

मंडी (राकेश) गोहर मे खुले मे फैंका जा रहा रहा है कूड़ा कचरा।ज्यू-ज्यो पंचायत चुनाव नजदीक आ रहे हैं पंचायतों के नुमाइंदे सफाई व्यवस्था पर कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं। उनकी इस लापरवाही के चलते पंचायत में सफाई व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है।जिससे करोना काल में गंदगी फैलने से बीमारी फैलने का और भी ज्यादा भय बना हुआ है। दूसरी ओर पंचायतों में आज कल पंचायत नुमाइंदे चुनाव लड़कर प्रधान की कुर्सी हथियाने की होड़ में नियमों को दरकिनार करते हुए विकास कार्यों को लापरवाही के साथ अंजाम देकर टारगेट पूरा करने में लगे हुए हैं। पंचायत में बने स्वच्छता पिट गायब जिससे इन की लापरवाही के चलते बाजार,गांव में सरेआम गंदगी नालों, खड्डो में डाली जा रही है और खड्ड का पानी को दूषित किया जा रहा है। ऐसी अवस्था की पोल ग्राम पंचायतो में खुलेआम देखी जा रही है।जिससे आने जाने वाले पर्यावरण प्रेमी और आम आदमी बहुत चिंतित हैं। पंचायत नुमाइंदे केवल पैसा कमाने के चक्कर में नियमो को दर किनारे कर रहें है।जिसके चलते जगह-जगह गंदगी कूड़े कचरे के ढेर लगे हैं।

यह गंदगी के ढेर सार्वजनिक जगह पर देखे जा सकते हैं बहुत सी गंदगी के ढेर खुले में या नदी-नालों में बहाए जा रहे हैं। ऐसा ही मामला खंड विकास अधिकारी गोहर के नाक तले ग्राम पंचायत गोहर मे देखने को मिल रहा है। पंचायत द्वारा बनाए गए स्वच्छता पिटो का नामोनिशान ही नहीं रहा है। लाखों रुपए द्वारा बनाए गए इन कूड़ा दानपिटो में मिट्टी भर गई है और कई जगह तो यह गायब ही हो गए हैं।पंचायत द्वारा अनदेखी के कारण निर्मित कूड़ा दान पिट पहले से ही बंद हो गए हैं।और जिसके चलते गंदगी खुले में फैंकी जा रही है। इसके साथ (नाई) बारवर द्वारा बालों को खुले में फेंका जा रहा है जो वहकर पानी में मिल रहे हैं।गंदगी व बालों के पानी मिलने से लाखों लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है।जिससे पंचायत की लापरवाही के चलते स्वच्छता पुरस्कार के दावे खोखले साबित होते नजर आ रहे हैं। गोहर बाजार में लाखों रुपए से निर्मित शौचालय में गंदगी व बदबू का आलम है। शौचालय की सफाई व्यवस्था का कोई ध्यान नहीं रखा जा रहा है शौचालय से निकली गंदगी सीधे नाले के पानी में मिल रही है। इस बारे में जब खंड विकास अधिकारी गोहर निशांत शर्मा से बात की गई तो उन्होंने कहां की स्वच्छता के साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा।इसके ऊपर कड़ा एतराज जताते हुए कहा कि स्वच्छता के साथ कोई भी पंचायत प्रधान खिलवाड़ नहीं कर सकते नहीं कर सकते। पंचायत प्रधान व व्यापार मंडल प्रधान को पहले ही गोहर में जगह चिन्हित कर कूड़ा कचरे को एक जगह पिट में डालने के आदेश जारी किए गए हैं। अभी तक अगर ऐसा है तो पंचायत के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी और खुले में गंदगी फेंकने वालों के खिलाफ मौके पर चालान काटकर उनके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। फोटो कैप्शन- गोहर में स्वच्छता के दावे खोखले साबित हो रहे हैं और गंदगी को खुलेआम खड्ड में बहाया जा रहा है।

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!