कोटखाई में नेपाली मूल की चार साल की बच्ची के साथ हुआ दुष्कर्म, बिहार का आरोपी गिरफ्तार

Read Time:2 Minute, 55 Second

Himachal News: हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले का कोटखाई क्षेत्र एक बार फिर से सुर्खियों में हैं. इस बार भी मासूम के साथ दरिंदगी का मामला सामने आया है. नेपाली मूल की 4 साल की मासूम दुष्कर्म का शिकार हुई है. मिस्त्री का काम करने वाले बिहार के रहने वाले 28 वर्षीय युवक पर दुराचार का आरोप है. घटना गुरुवार की है. दुष्कर्म करने के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया था. पुलिस रातभर उसे तलाशती रही और शुक्रवार सुबह ठियोग क्षेत्र के छैला के पास आरोप को पकड़ लिया. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर आगामी कार्रवाई में जुट गई है. डीएसपी कुलविंद्र सिंह ने आरोपी की गिरफ्तारी की पुष्टि की है. आरोपी मिस्त्री का काम करता है और एक साल से पीड़िता के पड़ोस में रह रहा था.

आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 376, 452 और पॉक्सो एक्ट की धारा 4 के तहत कोटखाई थाना में मामला दर्ज कर किया गया है.

मां ने दी थी शिकायत

जानकारी के अनुसार पीड़िता की मां की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज किया है. पुलिस को दी शिकायत में पीड़िता की मां ने बताया कि वीरवार को वह काम के लिए गई थी. उनके पड़ोस में रहने वाला 28 वर्षीय ललन सुबह साढ़े 11 बजे वह घर में दाखिल हुआ. लड़की को अकेला देखकर पहले उसके साथ छेड़छाड़ करनी शुरू की और उसके साथ दुष्कर्म किया. पीड़िता की शिकायत पर पुलिस घटना स्थल पर पहुंची और मौके पर से सभी साक्ष्य जुटाए. पीड़िता का मेडिकल करवा लिया गया है. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार करने के बाद उसका मेडिकल करवाया लिया है और आरोपी को जल्द अदालत में पेश किया जाएगा.

चार साल पहले नाबालिग से हुई थी दरिंदगी

चार साल पहले 4 जुलाई 2017 में कोटखाई में नाबालिग की रेप के बाद हत्या कर दी थी. मामले में सीबीआई ने एक आरोपी को पकड़ा था. चार साल तक चले ट्रायल के बाद नीलू नाम के युवक को कोर्ट ने दोषी करार देते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी.

error: Content is protected !!
Hi !
You can Send your news to us by WhatsApp
Send News!