मध्य प्रदेश में भी कोरोना बेकाबू हो चुका है। कई परिवारों पर लगातार कहर बरपा रहा है। देवास में अग्रवाल समाज के अध्यक्ष के परिवार में तो कोरोना के कारण दुखों का पहाड़ टूटा है। यहां पर महज 18 दिन में कोरोना ने पांच सदस्यों की जान ले ली। अब सदमें में इस परिवार की बहू ने फांसी लगाकार जान दे दी। परिवार में सिर्फ दादा व चार छोटे बच्चे रह गए।

जानकारी के अनुसार देवास के मैनाश्री नगर इलाका निवासी बालकिशन गर्ग की पत्नी चंद्रकला देवी की कोरोना संक्रमण की वजह से 14 अप्रैल को मौत हो गई थी। मां की मौत के बाद उनके बड़े बेटे संजय गर्ग भी कोरोना की चपेट में आए और 19 अप्रैल को दम तोड़ दिया। फिर संजय के छोटे भाई स्वप्नेश की भी अगले दिन 20 अप्रैल को कोरोना के कारण मौत हो गई।

सप्ताह में परिवार के तीन सदस्यों की मौत के बाद बहू रेखा सदमे में आ गई और 21 अप्रैल को उसने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। परिवार पर दुखों का पहाड़ टूटने के कारण दूसरी बहु रितु गर्ग की तबीयत भी बिगड़ गई। उसका इंदौर निजी अस्पताल में उपचार चल रहा था। रविवार को रितु की भी मौत हो गई। महज 18 दिन में पूरा गर्ग परिवार उजड़ गया। अब परिवार में सिर्फ बुजुर्ग बालकिशन गर्ग व चार छोटे बच्चे रह गए हैं।

error: Content is protected !!