Right News

We Know, You Deserve the Truth…

जब तक कृषि कानून की विदाई नहीं तब तक आंदोलन में कोई ढिलाई नहीं – पन्डित

26 मई 2021 को संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा देशव्यापी प्रदर्शन का और उसको भारत के 12 प्रमुख विपक्षी दलों द्वारा अपना समर्थन देने का भारतीय किसान यूनियन महाशक्ति हिमाचल प्रदेश के प्रवक्ता एन. के. पन्डित ने स्वागत किया है। पन्डित ने केंद्र की मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए साफ शब्दों में चेतावनी देते हुए कहा कि जब तक कृषि कानून कि विदाई नहीं तब तक आंदोलन में कोई ढिलाई नहीं। उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार को किसान विरोधी सरकार कि संज्ञा देते हुए कहा कि भाजपा आज तक यही तय नहीं कर पाई है कि वो किसानो के साथ खड़ी है या नहीं?

भारतीय किसान यूनियन महाशक्ति के प्रदेश प्रवक्ता एन के पन्डित ने मोदी सरकार को लताड़ लगाते हुए कहा कि पिछली सर्दी के मौसम में किसानो के ऊपर ठन्डे पानी की बौछारें करना और आंसू गैस के गोले दागना क्या किसानो का सम्मान है? उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार और प्रदेश की जय राम सरकार पर ताबड़ तोड़ हमला करते हुए नसीहत दी कि किसानों के साथ शालीनता से पेश आए भाजपा सरकार वरना पश्चिम बंगाल की तरह हर राज्य में भाजपा का ऐसा सफाया होगा कि उनको मोमबत्ती जलाकर ढूंढ़ना पड़ेगा।

पन्डित ने भाजपा पर कटाक्ष करते हुए कहा की आने वाले चुनावों में भाजपा का वही हाल होगा जो शादी के बाद डिस्पोजल प्लेट और गिलास का होता है। पन्डित ने मोदी सरकार पर चुटकी लेते हुए कहा कि केंद्र और हिमाचल सरकार किसानों को गुमराह मत करें, क्या ऐसे होगी किसानो की आय दोगुनी? प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि मोदी सरकार और जय राम सरकार के पास हेलीकॉप्टर पर सैर सपाटा करने को वक़्त है, लेकिन किसानों कि समस्या सुलझाने में कोई वक़्त नहीं है।

उन्होंने केंद्र सरकार से कहा कि किसानों को झूठे लॉलीपॉप दिखाना बंद करें भाजपा सरकार। उन्होंने कहा कि 26 मई 2021 को संयुक्त किसान मोर्चे द्वारा बुलाया गया देशव्यापी प्रदर्शन शांति पूर्वक होगा। इसको कई विपक्षी दलों के समर्थन के साथ अखिल भारतीय अनुसूचित जाति परिषद के सेंट्रल जोन मण्डी के चेयरमैन चमन राही ने भी अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ इस देशव्यापी प्रदर्शन को अपना समर्थन देने के साथ सहमति जताई है। भारतीय किसान यूनियन महाशक्ति हिमाचल के प्रदेश प्रवक्ता एन के पन्डित ने कहा कि भाजपा आज तक किसानो के प्रति अपना स्टैंड ही क्लियर नहीं कर पायी कि वो किसानों के साथ है कि नहीं। इससे साबित होता है कि भाजपा की ना तो नीति सपष्ट है ना नीयत सपष्ट है भाजपा केवल देश को गुमराह करने पर तुली हुई है।

error: Content is protected !!