कोरोना काल में अगर बाहर से घर पहुंचे किसी व्यक्ति की किन्ही कारणवश दुःखद मृत्यु हो जाए तो सभी लोग उस परिवार से दूरी बना लेते हैं। आज मंगलवार को सुबह स्थानीय प्रशासन को उपमंडल के तहत पड़ती पंजाहड़ा पंचायत के गांव दुमाल के नोएडा से पहुंचे एक व्यक्ति की सांस लेने में दिक्कत होने के कारण तबीयत बेहद नाजुक होने की सूचना पंचायत सचिव के माध्यम से मिली। एसडीएम डॉ सुरेन्द्र ठाकुर ने देरी न करते हुए स्वास्थ्य विभाग की टीम को एम्बुलेंस सहित उनके घर पर भेजा ताकि रोगी को शीघ्र बेहतर उपचार सुनिश्चित करवाया जा सके। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने वहां पहुंचने व जांच करने पर उस व्यक्ति को मृत पाया।

मृतक व्यक्ति की ट्रेवल हिस्ट्री कोरोना हॉटस्पॉट एरिया से होने के कारण परिजनों ने एसडीएम से मृतक व्यक्ति का अंतिम संस्कार करवाने की गुहार लगाई। एसडीएम डॉ सुरेन्द्र ठाकुर नायब तहसीलदार देस राज ठाकुर सहित पुलिस तथा अन्य प्रशासनिक लोगों के साथ उनके घर पहुंचे। उन्होंने वहां पहुंचने पर घर के सदस्यों के साथ अपनी गहरी संवेदनाएं व्यक्त की तथा उनसे बात करने के उपरांत अंतिम संस्कार के सभी प्रबंध पूरे करवाए। उन्होंने नूरपुर नगर परिषद से शव वाहन की व्यवस्था करवा कर मृतक के भाई तथा स्वयंसेवियों की मदद से कोविड़-19 के निर्धारित प्रोटोकॉल व सभी सावधानिओं के तहत पीपीएफ किट पहना कर अंतिम संस्कार करवाया।

एसडीएम ने बताया कि मृतक के घर तथा आसपास के क्षेत्र को सेनिटाइज किया गया है। उन्होंने बताया कि उसके परिवार के सदस्यों के कोविड़-19 के टेस्ट भी शीघ्र करवाए जाएंगे। वहीं एसडीएम सुरेंद्र ठाकुर ने कहा कि प्रशासन प्रदेश सरकार के सहयोग से कोरोना संक्रमित मरीजों के परिवारों को बेहतर उपचार उपलब्ध करवाने के साथ-साथ उन्हें घर पर दैनिक जरूरत का सामान पहुंचाने के प्रति गंभीरता से कार्य कर रहा है। सुरेंद्र ठाकुर ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि लोग मास्क पहने, बहुत जरूरी हो तभी घर से बाहर निकले। हम सभी को मिलजुलकर इस कोरोना संक्रमण से लड़ना है।

error: Content is protected !!