नेहरु युवा केन्द्र के स्वयंसेवकों तथा स्थानीय महाविद्यालय के विद्यार्थियों द्वारा हरोली बाजार में फ्लैश मोब का प्रदर्शन कर कोंरोना महामारी से बचाव तथा जल सरंक्षण हेतु प्रेरित करने के लिए जागरूकता अभियान का आयोजन किया गया। इस अवसर पर एसडीएम हरोली गौरव कि चौधरी ने बताया कि कोरोना महामारी ने हर व्यक्ति के जीवन को प्रभावित किया तथा इससे देश की अर्थव्यवस्था को भी भारी नुक्सान उठाना पड़ा है। उन्होंने बताया कि हमारे देश ने इस आपदा से निपटने के लिए एकजुट होकर कार्य किया तथा हमें सफलता भी मिली लेकिन अब पुनः कोरोना मामलों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो रही है जो निश्चित तौर पर सभी के लिए चुनौती है। उन्होंने बताया की प्रशासन अपने स्तर पर भरपूर कोशिश कर रहा है लेकिन आपदाओं से निपटना हमारी सामूहिक जिम्मेदारी है जिसके सकारात्मक परिणाम मिलेंगे। उन्होंने कहा की भारत सरकार द्वारा कोरोना टीकाकरण का चरणबद्ध तरीके से अभियान शुरू किया गया है जिसमें सभी लोगो को बिना किसी आशंका के सहभागी बनना चाहिए।

एसडीएम ने कहा कि दिन प्रतिदिन कोरोना मामलें बढ़ रहे है अतः सभी दुकानदार नो मास्क, नो सर्विस का अनुसरण करें तथा दुकानों में भीड़ इकठी ना होने दें ताकि दो गज की दुरी के नियम का पालन किया जा सके।
डॉ लाल सिंह जिला युवा अधिकारी नेहरु युवा केंद्र ऊना ने बताया की युवा स्वयंसेवियों व स्थानीय युवाओं के साथ मिलकर विगत 23 मार्च से नुक्कड़ नाटक व फ्लैश मोब के द्वारा कोरोना तथा जल सरंक्षण बारे जागरूकता अभियान का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि पहले चरण का समापन कल संतोषगढ़ में होगा। उन्होंने कहा की वर्षा के जल के संग्रहण हेतु जल शक्ति अभियान-2 “कैच द रेन” जहां पर बरसे, जब भी बरसे” का आगाज दिसम्बर माह में किया गया है तथा विगत 22 मार्च को विश्व जल दिवस के अवसर पर माननीय प्रधानमंत्री द्वारा वेबिनार पर देश के प्रशासन तथा पंचायती राज प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए जल सरंक्षण के आधारभूत ढांचे के विकास की अपील की गई। जिसके क्रम में नेहरु युवा केंद्र विभिन युवा मंडलों तथा स्वयंसेवियों के माध्यम से जन जागरण अभियान संचालित कर रहा है।

error: Content is protected !!