छौहारा क्षेत्र के जड़कोट खरशाली का रहने वाला महेंद्र सिंह (35) पुत्र अमीर चंद का गला-सड़ा शव गांव से काफी ऊपर जंगल में मिला है। शव पूरी तरह से गला सड़ा हुआ था और फंदे पर उसका कंकाल ही लटका हुआ था। मृतक की पहचान उसके कपड़ों से की गई है। जानकारी के अनुसार महेंद्र सिंह बीते 19 जनवरी को लापता हो गया था तथा परिजनों द्वारा उसकी गुमशुदगी की रपट चिडग़ांव पुलिस थाने में दर्ज करवाई गई थी। महेंद्र सिंह की खोजबीन परिजनों तथा पुलिस ने कई जगह की। यहां तक कि डीएसपी रोहड़ू सुनील नेगी ने भी कुछ दिनों तक क्षेत्र में जाकर खोजबीन की थी परंतु महेंद्र सिंह का कोई पता नहीं चल सका था।

जब एक भेड़ पालक ऊंचाई वाले इस क्षेत्र में अपनी भेड़-बकरियां चराने गया तो उसे यह कंकाल मिला। उसने गांव के लोगों तथा पुलिस को सूचित किया, जिस पर पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लिया। डीएसपी सुनील नेगी ने कहा कि शव को पोस्टमार्टम के लिए शिमला भेजा गया है। रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चल पाएगा।

error: Content is protected !!