मंडी जिले में एम्बुलेंस सेवा के कर्मचारियों द्वारा सामूहिक छुट्टी और हड़ताल करने पर उपायुक्त मंडी ने तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है। क्योंकि एम्बुलेंस सेवा के कर्मचारियों के हड़ताल पर जाने से जिले में मरीजों को यहां वहां भेजना मुश्किल हो गया है। जिससे कई लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। मंडी के लोगों की समस्या को देखते हुए उपायुक्त मंडी ने तत्काल प्रभाव से मामले को संज्ञान में लेकर आवश्यक सेवा अधिनियम में आदेश जारी कर एम्बुलेंस कर्मियों द्वारा हड़ताल पर जाने से रोक लगा दी है।

उपायुक्त मंडी का कोरोना महामारी के समय इस तरह का आदेश पारित करना सराहनीय कार्य है। इससे बीमार लोगों को राहत मिलेगी और कई मरीजों की जान बचाई जा सकेगी। उपायुक्त मंडी ने कर्मचारियों को हिदायत दी है कि कोई भी एम्बुलेंस कर्मचारी बिना उपायुक्त की अनुमति के जिले से बाहर नही जाएगा और अधिकारियों के आदेशों का पूरी तरह पालन करेंगे। अगर कोई एम्बुलेंस कर्मचारी आदेशों की अवहेलना करता पाया गया तो उसके खिलाफ आवश्यक सेवा अधिनियम के तहत कानूनी कार्यवाही की जाएगी।

जानकारी के मुताबिक हमीरपुर में भी उपायुक्त ने यही आदेश पारित करके एम्बुलेंस सेवा कर्मचारियों की सामूहिक छुट्टी और हड़ताल पर प्रतिबंध लगा दिया है।

error: Content is protected !!