आंध्र प्रदेश का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में एक लड़की अपनी मां से लड़ रही है। दरअसल वह लड़की अपने पिता को पानी देना चाहती है लेकिन उसकी मां उसे ऐसा करने से रोक रही है क्योंकि पिता कोरोनावायरस से संक्रमित हैं। गांव वालों ने भी पीड़ित की मदद से इनकार कर दिया। 50 वर्षीय पीड़ित शख्स विजयवाड़ा में नौकरी करते हैं। कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद वह अपने गांव श्रीकाकुलम लौटे लेकिन उनको गांव में घुसने नहीं दिया गया।

शख्स को गांव के बाहर एक मैदान में बनी झोपड़ी में रहने के लिए मजबूर किया गया। वीडियो स्थानीय ग्रामीण ने ही बनाया।

पीड़ित की 17 वर्षीय बेटी एक बोतल में पानी भरकर अपने पिता को देने के लिए जा रही है लेकिन उसकी मां उसे इस डर से रोक रही है कि कहीं वह भी कोविड की चपेट में न आ जाए।

पीड़ित का परिवार भी कोरोना संक्रमित

पिता जमीन पर लेटे हैं और बेटी भागकर उनके पास जाती है और पानी की बोतल देने में सफल हो जाती है। वीडियो बना रहा शख्स कहते हुए सुनाई देता है कि इस व्यक्ति के इलाज के लिए अस्पताल में बेड नहीं है। कुछ समय बाद पीड़ित शख्स की मौत हो जाती है। वहीं मृतक का परिवार भी कोरोना से संक्रमित पाया गया। वीडियो बना रहा शख्स यह भी कहता है कि वे लोग उनके (पिता) पास जा सकते हैं क्योंकि अब वो भी संक्रमित हो चुके हैं। वीडियो में दिख रहा है कि कुछ लोग दूरी पर खड़े यह सब देख रहे हैं।

वहीं दूसरी ओर नंदीगामा में हुई एक और घटना में 55 वर्षीय महिला की रविवार को मौत हो गई। महिला को तेज बुखार और खांसी थी। सरकारी अस्पताल में भर्ती करने के कुछ देर बाद महिला ने दम तोड़ दिया। मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक आंध्र प्रदेश में भी कोरोना तेजी से फैल रहा है। एक दिन में 20 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए और 71 मरीजों की मौत हो गई। राज्य में कोविड के कुल मामले 11 लाख के करीब पहुंच चुके हैं।

error: Content is protected !!