पंजाब के होशियारपुर में एक नाबालिग को अगवा करने और दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। आहत लड़की ने बाद जहर खाकर जान दे दी। मामला रविवार शाम का है। नाराज परिजनों ने आरोपियों की गिरफ्तारी तक लड़की का अंतिम संस्कार नहीं करने की बात कही। हालांकि बाद में पुलिस के आश्वासन पर  देर शाम लड़की का अंतिम संस्कार कर दिया गया। पुलिस ने गांव के ही लवप्रीत सिंह और गुरप्रीत सिंह पर दुष्कर्म और आत्महत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज किया गया है। 

जानकारी के अनुसार, जिला होशियारपुर के एक गांव की 17 साल की दलित परिवार की लड़की रविवार शाम को अपनी सहेली के यहां स्कूल का काम करने गई थी। उसे अकेले देख गांव के ही दो नौजवानों लवप्रीत सिंह और गुरप्रीत सिंह ने उसे अपनी गाड़ी में जबरन बिठा लिया।

आरोपी उसे ट्यूबवेल पर ले गए और वहां उसके साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद दोनों आरोपी लड़की को कहीं और ले जा रहे थे कि मौका पाकर पीड़िता गाड़ी से कूद गई और चिल्लाने लगी। गांव के ही कुछ लोगों ने उसे अस्पताल में भर्ती करवाया। सोमवार को लड़की ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। पीड़ित परिवार और ग्रामीणों ने पुलिस से इंसाफ की गुहार लगाई है। 

पीड़ित परिवार ने आरोप लगाया कि आरोपी रसूखदार परिवार से हैं, इसलिए पुलिस उन्हें गिरफ्तार नहीं कर रही। गांव की महिला पंच का कहना है कि वे पीड़ित परिवार को न्याय दिलवाएंगे। डीएसपी सतिंदरपाल चड्ढा ने बताया कि पुलिस ने परिजनों के बयान के आधार पर थाना बुल्लोवाल में आरोपी युवकों पर धारा 306, 365, 366-A 506, 34, 376 के तहत मामला दर्ज किया है। 

error: Content is protected !!