Monkeypox के बढ़ते संक्रमण के को देखते हुए WHO ने दी सलाह; सेक्सुअल पार्टनरों की संख्या कम करें

0
57

जिनेवा: Monkeypox: विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रमुख टेड्रोस अदनोम घेब्रेयसस (Tedros Adhanom Ghebreyesus), जिन्होंने पिछले शनिवार को मंकीपॉक्स को वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित किया था. उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि संक्रमण से बचाव का सबसे अच्छा तरीका है कि “एक्सपोज़र कम किया जाए”. विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख ने सलाह दी है कि जिन पुरुषों को मंकीपॉक्स का जोखिम है वे फिलहाल यौन साथियों की संख्या सीमित रखने पर विचार करें. उन्होंने कहा कि अपने यौन साझेदारों की संख्या को कम करें, नए भागीदारों के साथ यौन संबंध पर पुनर्विचार करें.  घेब्रेयसस ने कहा कि 78 देशों से अब मंकीपॉक्स के 18,000 से अधिक मामले सामने आए हैं, जिनमें से 70 प्रतिशत मामले यूरोप में और 25 प्रतिशत अमेरिका में दर्ज किए गए हैं.

दरअसल डब्ल्यूएचओ को प्रस्तुत किए गए मॉडल बताते हैं कि बीमारी से संक्रमित एक व्यक्ति से संक्रमित होने वाले लोगों की औसत संख्या पुरुषों के साथ यौन संबंध रखने वाले पुरुषों में 1.4 और 1.8 के बीच है, लेकिन अन्य आबादी में 1.0 से कम.

बता दें डब्ल्यूएचओ ने मौजूदा मंकीपॉक्स महामारी को एक वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित किया है. स्वतंत्र सलाहकारों की समिति, जिसकी गुरुवार 21 जुलाई 2022 को बैठक हुई थी, इस निर्णय पर एकमत नहीं थे कि क्या बढ़ते मंकीपॉक्स के प्रकोप को अंतर्राष्ट्रीय चिंता का सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल (पीएचईआईसी) कहा जाए – जो उच्चतम स्तर का अलर्ट है. डब्ल्यूएचओ के प्रमुख, डॉ टेड्रोस अदनोम घेब्रेयसस ने गतिरोध को तोड़ा और प्रकोप को पीएचईआईसी घोषित किया. यह पहली बार है जब डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक ने सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित करने के लिए अपने सलाहकारों को किनारे कर दिया.

यूरोप से आ रहे हैं अधिक मामले

सबसे ज्यादा संक्रमण यूरोप से सामने आए हैं. अधिकांश संक्रमण ऐसे पुरुषों में हुए हैं जो पुरुषों के साथ यौन संबंध रखते हैं, विशेष रूप से ऐसे पुरुष जो कई लोगों के साथ यौन संबंध रखते हैं. पुरुषों के साथ यौन संबंध बनाने वाले पुरुषों में पूरे 98 प्रतिशत मामले सामने आए हैं. पिछले हफ्ते न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि 98 प्रतिशत संक्रमित लोग समलैंगिक या उभयलिंगी पुरुष थे, और 95 प्रतिशत मामले यौन गतिविधि के माध्यम से प्रसारित हुए थे.

विशेषज्ञ हाल ही में इस बात पर बहस कर रहे हैं कि क्या मंकीपॉक्स अब एक यौन संचारित रोग है. भले ही मंकीपॉक्स निस्संदेह सेक्स के दौरान फैलता है, इसे एसटीडी के रूप में लेबल करना ठीक नहीं होगा, क्योंकि संक्रमण किसी भी अंतरंग संपर्क से फैल सकता है.

Leave a Reply