महसा अमिनी की मौत के बाद हुआ हिंसक प्रदर्शन, कार्यवाही में 31 नागरिकों की मौत

0
37

ईरान में विरोध प्रदर्शन के दौरान सुरक्षा बलों की कार्रवाई में कम से कम 31 नागरिकों की मौत हो गई है। ये सभी पुलिस द्वारा उसकी गिरफ्तारी में महसा अमिनी की मौत के बाद प्रदर्शन कर रहे थे। दरअसल, ईरान में प्रदर्शनों की शुरुआत पिछले हफ्ते हुई थी, जब 22 वर्षीया महसा अमीनी की पुलिस हिरासत में मौत हो गई थी।

अमीनी को ठीक से नकाब ना पहनने के आरोप में हिरासत में लिया गया था। सरकारी अधिकारियों का कहना था कि अमीनी की मौत दिल का दौरा पड़ने के कारण हुई, लेकिन अमीनी के परिवार ने दावा किया है कि इसके पहले अमीनी को दिल की बीमारी जैसी कोई शिकायत नहीं थी।

अमीनी को हिरासत में लेकर ईरान में ‘नैतिकता सुनिश्चित करने की प्रभारी’ पुलिस शिक्षण सेंटर में ले गई थी। पुलिस की तरफ से जारी वीडियो में दिखाया गया कि पहनावे संबंधी प्रशिक्षण के दौरान वे अचानक बेहोश होकर गिर पड़ीं, लेकिन आलोचकों ने इसे एडिट किया हुआ वीडियो बताया। अमीनी की अंत्येष्टि बीते शनिवार को की गई। उसके बाद जब ये खबर फैली, तब से ईरान के कई शहरों में विरोध प्रदर्शन हुए हैं। खास कर कुर्दिस्तान प्रांत में अशांति फैली है। अमीनी की मौत इसी प्रांत में हुई थी।

बताया जाता है कि कुछ जगहों पर महिलाओं ने प्रदर्शनों के दौरान हिजाब उतार दिए और विरोध जताने के लिए उन्हें हाथ में लेकर लहराया। इंटरनेट निगरानी करने वाली संस्था नेटब्लॉक ने कहा है कि सोमवार से ही देश के कई हिस्सों में इंटरनेट लगभग पूरी तरह बाधित है।

Leave a Reply