शाहरुख हुसैन; जाने कौन है वो वहशी दरिंदा जिसने 16 साल की अंकिता को जिंदा जला दिया

0
55

रांची। झारखंड के दुमका में एक सिरफिरे आशिक ने 17 साल की बारहवीं की छात्रा को जिंदा जला डाला. पांच दिन बाद रांची में छात्रा की मौत हो गई, छात्रा की मौत पर हिन्दू संगठन ने ‘लव जिहाद’ का आरोप लगाया है. बढ़ते दबाव के बीच झारखंड सरकार ने गुनहगार को सजा दिलाने के लिए स्पीडी ट्रायल का आश्वासन भी दिया है.

पांचवीं तक पढ़ा है शाहरुख़

अंकिता को जलाकर मार डालने वाले शाहरुख की उम्र 23 साल है और वह पांचवी तक ही पढ़ा है, छोटी उम्र में ही उसने पढ़ाई छोड़ दी थी. शाहरुख, दुमका की एक कॉलोनी में रहता था और मजदूरी करता था. पिछले एक-डेढ़ साल से शाहरुख़ अंकिता का पीछा कर रहा था. वह ड्रग्स भी लेता था, वारदात की रात को शाहरुख़ के साथ उसका एक दोस्त छोटू भी था, जिसने अंकिता को मारने के लिए शाहरुख़ को पेट्रोल लाकर दिया था.

अंकिता को जलाने की घटना 23 अगस्त सुबह चार बजे घटी थी, उस समय घर में अंकिता के दादा-दादी, उसके पिता और उसका छोटा भाई मौजूद था. जब तक अंकिता नींद से उठती, तब तक वह आग की लपटों से घिर चुकी थी. उसने किसी तरह कमरे का दरवाजा खोला और आंगन में रखे पानी से भरे बाल्टी को अपने ऊपर उड़ेला, लेकिन तक तक अंकिता बुरी तरह जल गई थी. चीख-पुकार सुनकर दादा-दादी और पिता जाग गए, कम्बल लपेटकर आग बुझाई गई और बुरी तरह जली अंकित को दुमका मेडिकल कॉलेज में इलाज के लिए भर्ती कराया गया. मामले के संज्ञान में आते ही नगर थाना पुलिस ने आरोपी शाहरुख़ को गिरफ्तार कर लिया और पीड़िता का बयान दर्ज किया.

अंकिता के घरवालों ने बताया था कि शाहरुख ने कहीं से अंकिता का फोन नंबर जुगाड़ कर लिया था और हमेशा उसे फोन कर दोस्ती करने और अपनी बात मनवाने के लिए दबाव बनाता रहता, लेकिन अंकिता हमेशा उसे मना करती रही, शाहरुख ने उसे धमकी भी दी थी कि अगर मेरा कहा नहीं मानोगी तो मैं तुम्हें जिंदा नहीं छोडूंगा और उसके बाद ही शाहरुख़ ने उसे इस तरह जला दिया.

Leave a Reply