Rupee vs Dollar: अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 22 पैसे बढ़कर 79.02 पर बंद हुआ रुपया

0
38

नई दिल्ली। रुपये में उतार-चढ़ाव का दौर जारी है। पिछले कुछ कारोबारी सत्रों से रुपये में तेजी देखी जा रही है। कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट और कमजोर अमेरिकी मुद्रा की वजह से सोमवार को अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 22 पैसे की तेजी के साथ 79.02 (अनंतिम) पर बंद हुआ। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में रुपया शेयरों में बढ़त और कच्चे तेल में गिरावट के कारण 79.16 पर खुला। 79.02 पर बंद होने से पहले रुपया 79.00 के उच्च और 79.22 के निचले स्तर पर पहुंच गया था। पिछले कारोबारी सत्र में रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 79.24 पर बंद हुआ था।

रुपये की मजबूती पर क्या कहते हैं रिसर्च एनालिस्ट

छह मुद्राओं के बास्केट के मुकाबले ग्रीनबैक की ताकत को मापने वाला डॉलर इंडेक्स सोमवार को 0.52 प्रतिशत लुढ़ककर 105.34 पर आ गया। वहीं, वैश्विक तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड वायदा 1.21 प्रतिशत गिरकर 102.71 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया। बीएनपी पारिबा द्वारा शेयरखान के रिसर्च एनालिस्ट अनुज चौधरी के अनुसार कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट और कमजोर अमेरिकी डॉलर के कारण भारतीय रुपये में तेजी आई। इसके अलावा, भारत का मैन्युफैक्चरिंग पीएमआई जून में 53.9 की तुलना में जुलाई में बढ़कर 56.4 हो गया और इससे रुपये को भी समर्थन मिला।

अगले कुछ सत्रों में 78.50 से 80 के दायरे में कारोबार करेगा रुपया

चौधरी ने कहा कि हम उम्मीद करते हैं कि कमजोर अमेरिकी डॉलर और सकारात्मक वैश्विक जोखिम भावनाओं पर रुपया सकारात्मक व्यापार करेगा। एफआईआई फ्लो और कमजोर कच्चे तेल की कीमतें भी रुपये का समर्थन कर सकती हैं। हालांकि, वैश्विक मंदी की चिंता और महंगाई बढ़ने की चिंताएं तेज हो सकती हैं। यूएस आईएसएम मैन्युफैक्चरिंग डाटा और सप्ताह के अंत में आरबीआई की मौद्रिक नीति के नतीजे भी बाजार पर प्रभाव डाल सकते हैं। उन्होंने कहा कि अगले कुछ सत्रों में रुपया 78.50 से 80 के दायरे में कारोबार करेगा।

आपको बता दें कि सोमवार को कारोबारी सत्र के दौरान बीएसई सेंसेक्स 545.25 अंक या 0.95 प्रतिशत बढ़कर 58,115.50 पर बंद हुआ, जबकि व्यापक एनएसई निफ्टी 181.80 अंक या 1.06 प्रतिशत बढ़कर 17,340.05 पर बंद हुआ। वहीं, विदेशी संस्थागत निवेशक शुक्रवार को पूंजी बाजार में शुद्ध खरीदार थे। एक्सचेंज के आंकड़ों के अनुसार, निवेशकों ने 1,046.32 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे। 

Leave a Reply