Kerala Rain Alert: केरल में भारी बारिश के बीच कार फिसलने से तीन की मौत, कई जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी

0
23

तिरुवनंतपुरम। केरल के विभिन्न हिस्सों में कई सप्ताह से भारी बारिश हो रही है। इसको देखते हुए मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने लोगों से सतर्क रहने को कहा है। इसी बीच बस को ओवर टेक करने की कोशिश के दौरान एक कार फिसल कर तेज धारा में बह गई। स्थानीय निवासी जब तक उन्हें बचा पाते कार में सवार सभी नदी में डूब गए। यह हादसा पथानामथिट्टा जिले में वेण्निकुलम में हुई है। पुलिस ने यह जानकारी दी है।

पुलिस ने बताया है कि यह हादसा सुबह सात बजे हुआ, जब एक कार बस को ओवरटेक करने की कोशिश में सड़क से फिसल कर तेज पानी की धारा में बह गयी। नदी में डूबने वालों की पहचान चंडी मैथ्यू उनकी पत्नी और बेटी के रूप में की गई है। राज्य के कई इलाकों में भारी बारिश के कारण जल का स्तर काफी बढ़ गया है।राज्य में उत्खनन और माइनिंग पर रोक

राज्य में इसी प्रकार की एक अन्य घटना सामने आई है। जिले के अधिकारियों ने बताया कि पंपा नदी में एक 60 साल का व्यक्ति बह गया है, बचाव कर्मी उसकी तलाश करने में जुटे हुए हैं। अधिकारियों ने बताया कि राज्य में भारी बारिश और आने वाले दिनों में खराब मौसम की चेतावनी को देखते हुए कोट्टायम और एर्नाकुलम जिले में उत्खनन और माइनिंग गितिविधियों पर फिलहाल के लिए रोक लगाया गया है। कोट्टायम में 25 व्यक्ति पर्यटक स्थल पर गए थे, जो अभी वापस नहीं आए हैं। अधिकारियों ने बताया कि सभी पास के सरकारी स्कूलों और आस-पास के घरों में सुरक्षित हैं।

सड़कों को किया जा रहा साफ

अधिकारियों ने बताया कि सड़की हालत बेहद खराब है। चक्कीकव-कूवापल्ली सड़क को हल्के वाहनों के गुजरने लायक बनाया जा रहा है। हालांकि, इस इलाके में तार और पोल के टूटने से बचाव कार्य में परेशानी आ रही है। राज्य में भारी बारिश को देखते हुए केरल प्रदेश कांग्रेस कमेटी (KPCC) प्रमुख और सांसद के सुधाकरण सभी पार्टियों के कार्यकर्ताओं से राहत और बचाव कार्यों में मदद करने के लिए आगे आने को कहा है।

मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की नसीहत

राज्य के वित्त मंत्री के राजन ने कहा है कि तेज बारिश और उसके साथ चलने वाली तेज हवाएं भी चिंता का कारण हैं। उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए कहा है कि आने वाले दिनों में राज्य के कई इलाके खासकर कोल्लम, कायमकुलम और कोच्चि के तटीय क्षेत्रों में तेज हवाएं चलने के आसार हैं। उन्होंने मछुआरों को इस स्थिति में बेहद सावधान रहने की अपील की है। राज्य में कई इलाकों के शिक्षण संस्थानों में सोमवार को छुट्टी दे दी गई है। एर्नाकुलम जिले में चार अगस्त तक ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। सभी विभागों को भारी बारिश को लेकर तैयार रहने का निर्देश दिया गया है। इस दौरान मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने को कहा गया है।

मुख्यमंत्री ने लोगों से की अपील

राज्य में भारतीय मौसम विभाग (IMD) द्वारा जारी ऑरेंज अलर्ट को देखते हुए मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने रविवार को कहा कि पहाड़ी इलाकों में रहने वाले लोगों को सतर्क रहना चाहिए और बारिश शुरू होने से पहले ही उन्हें राहत एवं बचाव शिविरों में पहुंचा दिया जाना चाहिए। राज्य के तिरुवनंतपुरम, कोल्लम, पठानमथिट्टा, अलाप्पुझा, कोट्टायम, एर्नाकुलम और इडुक्की जिले में एक अगस्त तक के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। राज्य के आठ जिलों में दो अगस्त, 12 जिलों में तीन अगस्त और चार अगस्त के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

Leave a Reply