सिक्किम में शहीद हुए आईटीबीपी के जवान देवराज का सम्मान के साथ किया गया अंतिम संस्कार

0
52

हिमाचल प्रदेश के सोलन जिलने में अजाड़ली पंचायत के बोकरा गांव के आईटीबीपी जवान देवराज (56) सिक्किम में ड्यूटी के दौरान हृदयगति रुकने से शहीद हो गए। गुरुवार को आईटीबीपी के जवानों ने तिरंगे में लिपटी शहीद देवराज की पार्थिव देह उनके पैतृक गांव बोकरा पहुंचाई।

यहां सैनिक सम्मान के साथ गांव के श्मशानघाट में शहीद को अंतिम विदाई दी गई। आईटीबीपी जवानों ने उन्हें सलामी दी। बेटे विनोद ने उन्हें मुखाग्नि दी।

इस मौके पर मौजूद सैकड़ों लोगों की आंखें नम थीं। देवराज के परिवार में पत्नी सत्या देवी, एक बेटा और दो बेटियां हैं। सभी बच्चों की शादी हो चुकी है। बेटा विनोद भी सेना में सेवाएं दे रहा है। शहीद देवराज मेहता 36 वर्षों से आईटीबीपी में सेवाएं दे रहे थे। वर्तमान में इनकी पोस्टिंग नॉर्थ सिक्किम के पैंगोंग में थी। 23 अगस्त को उन्हें ड्यूटी के दौरान हार्ट अटैक आया और उनकी मौत हो गई। क्षेत्र में उनकी मौत की खबर सुनते ही माहौल गमगीन हो गया था।

Leave a Reply