हिमाचल में टोमैटो फ्लू को लेकर अलर्ट जारी, जाने कैसे करें संक्रमण के लक्षणों से पहचान

0
85

शिमला। Tomato Flu Symptoms, हिमाचल प्रदेश में टोमैटो फ्लू का कोई मामला नहीं है, फिर भी सावधानी बरतते हुए स्वास्थ्य विभाग ने एडवाइजरी जारी की है। विभाग के प्रधान सचिव सुभाशीष पांडा ने सभी मुख्य स्वास्थ्य अधिकारियों को अलर्ट भेजा है।

अस्पताल में आने वाले बच्चों पर विशेष तौर पर नजर रखी जाए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में टोमैटो फ्लू का कोई मामला नहीं है, लेकिन एहतियाती तौर पर सभी जिलों में गंभीरता पूर्वक नजर रखने के लिए कहा गया है। यह सिम्टोमेटिक फ्लू है और इसमें पीडि़त बच्चों को आइसोलेशन में रखना जरुरी है। पांडा ने कहा कि हमें केंद्र सरकार ने एडवाइजरी प्राप्त हुई है। इस संबंध में स्वास्थ्य विभाग की ओर से सभी स्तर पर एडवाइजरी भेज दी गई है। उन्होंने कहा कि टोमैटो फ्लू से घबराने की कोई बात नहीं है।

क्या है टोमैटो फ्लू

टोमैटो फ्लू हाथ-पैर और मुंह की बीमारी कहलाती है। इस बीमारी के प्रभाव में एक साल से 10 साल तक के बच्चे आते हैं। दिल्ली सहित उत्तर भारत के कई राज्यों में ये संक्रमण प्रभाव दिखाने लगा है। इस बीमारी का प्रभाव छोटे बच्चों में नजर आता है, विशेष तौर पर जिन बच्चों में रोग प्रतिरोधक क्षमता कम रहती है उनके शरीर पर लाल चकत्ते पड़ते हैं। इस रोग के इलाज के लिए कोई दवा उपलब्ध नहीं है। किसी बच्चे में इसके लक्षण नजर आएं तो उन्हें आइसोलेट रखा जाता है। जिसके लिए अस्पतालों में आइसोलेशन वार्ड उपलब्ध हैं। हालांकि टोमैटो फ्लू वायरस अन्य वायरल संक्रमणों (बुखार, थकान, शरीर में दर्द और त्वचा पर चकत्ते) के समान लक्षण दिखाता है। इस वायरस का अन्य किसी वायरस से कोई संबंध नहीं है।

Leave a Reply