अनिल परब ने दिया था आदेश, नारायण राणे को गिरफ्तार करो, वीडियो वायरल

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के परिवहन मंत्री अनिल परब का वीडियो वायरल हो रहा है। परिवहन मंत्री अनिल परब वीडियो क्लिप में पुलिस को आदेश दे रहे हैं कि केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को गिरफ्तार करो।

भाजपा ने आरोप लगाया है कि पुलिस पर केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को गिरफ्तार करने का दबाव था। संदेह तब और बढ़ गया जब परिवहन मंत्री अनिल परब की एक क्लिप सोशल मीडिया पर वायरल हो गई। इसलिए बीजेपी नेता आशीष शेलार ने मंत्री अनिल परब के वीडियो से राणे की गिरफ्तारी की सीबीआई जांच की मांग की है।

पुलिस अधिकारियों को बिना किसी देरी के राणे को गिरफ्तार करने का आदेश देते हुए दिखाया गया है। मंगलवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान रत्नागिरी के संरक्षक मंत्री परब ने दो फोन पर बातचीत की। प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए टेबल पर खुले माइक्रोफोन के सामने बैठे हुए परब की आवाज सुनाई दे रही थी। वह इस जिले के प्रभारी मंत्री हैं और सीएम उद्धव ठाकरे के करीबी नेताओं में शुमार किए जाते हैं।

विवादास्पद टिप्पणी के आरोप में गिरफ्तार किए गए केंद्रीय मंत्री नारायण राणे को मंगलवार रात रायगढ़ जिले में महाड की एक अदालत ने जमानत दे दी। इससे पहले भाजपा नेता राणे के वकील अनिकेत निकम ने आरोप लगाया कि पुलिस राणे को गिरफ्तार करने से पहले कानून की उचित प्रक्रिया का पालन करने में विफल रही और वह उनकी गिरफ्तारी का विरोध करेंगे।

केंद्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री राणे की टिप्पणी को लेकर महाराष्ट्र में उनके खिलाफ चार प्राथमिकी दर्ज की गई हैं। उन्हें रत्नागिरि पुलिस ने मंगलवार को दोपहर बाद गिरफ्तार किया था और फिर उन्हें महाड ले जाया गया। महाड में उनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 189 (लोकसेवक को नुकसान पहुंचाने की धमकी देने) और धारा 504 (शांति भंग करने के लिए जानबूझकर अपमान करना) तथा धारा 505 (सार्वजनिक तौर पर शरारत से संबंधित बयान) के तहत मामला दर्ज किया गया।

राणे ने दावा किया था कि स्वतंत्रता दिवस के मौके पर अपने संबोधन में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे यह भूल गए कि देश की आजादी को कितने साल हुए हैं। राणे ने रायगढ़ जिले में सोमवार को ‘जन आशीर्वाद यात्रा’ के दौरान कहा, ”यह शर्मनाक है कि मुख्यमंत्री को यह नहीं पता कि आजादी को कितने साल हो गए हैं।

भाषण के दौरान वह पीछे मुड़कर इस बारे में पूछते नजर आए थे। अगर मैं वहां होता तो उन्हें एक जोरदार थप्पड़ मारता।” राणे अपनी इस टिप्पणी के बाद विवादों में घिर गए और शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने राज्य के कई शहरों में विरोध प्रदर्शन किया।

राणे की गिरफ्तारी के बाद, बेटे नितेश ने एक वीडियो ट्वीट कर ”करारा जवाब” देने का दिया संकेत

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ कथित आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में केन्द्रीय मंत्री नारायण राणे की गिरफ्तारी के बाद उनके बेटे एवं भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता नितेश राणे ने बॉलीवुड की एक फिल्म का वीडियो ट्विटर पर साझा कर पूरे वाकये पर करारा जवाब देने का संकेत दिया।

नितेश राणे ने ट्विटर पर फिल्म ‘राजनीति’ का एक वीडियो साझा किया, जिसमें अभिनेता मनोज बाजपेयी कहते नजर आ रहे हैं, ” आसमान पर थूकने वाले को शायद यह पता नहीं है कि वह उनके चेहरे पर ही गिरेगा….करारा जवाब मिलेगा, करारा जवाब मिलेगा।”

केंद्रीय मंत्री राणे ने दावा किया था कि स्वतंत्रता दिवस के मौके पर अपने संबोधन में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे यह भूल गए कि देश की आजादी को कितने साल हुए हैं। उन्होंने कहा था, ” अगर मैं वहां होता तो उन्हें एक जोरदार थप्पड़ मारता।”

इस मामले में उन्हें मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया गया था। हालांकि बाद में महाड की एक अदालत ने मंगलवार देर रात उन्हें जमानत दे दी थी। जमानत मिलने के बाद केन्द्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री राणे ने ट्वीट किया था, ” सत्यमेव जयते।” इस संबंध में उनके खिलाफ महाराष्ट्र में चार थानों में प्राथमिकी दर्ज की गई है, जिससे मंगलवार को राज्य में राजनीतिक माहौल गर्म हो गया था।

error: Content is protected !!