पुलिस भर्ती पेपर लीक मामले में दो आरोपियों ने कोर्ट में किया आत्मसमर्पण, पांच दिन के रिमांड पर भेजा

0
3

हिमाचल प्रदेश पुलिस कांस्टेबल भर्ती पेपर लीक मामले में दो आरोपियों ने कांगड़ा कोर्ट में आत्मसमर्पण किया। किसी संस्थान में कोचिंग देने वाले विनीत कुमार निवासी शंकरपुर मुंगेर, बिहार और वेद प्रकाश निवासी रामबिग्गा कुंड आथवन डिग्री नालंदा बिहार पुलिस की वांटेड सूची में शामिल थे।

दोनों ने पुलिस भर्ती का लिखित पेपर अभ्यर्थियों को बेचा था। पुलिस अधीक्षक खुशहाल चंद शर्मा ने बताया कि आरोपी एक संस्थान में कोचिंग देते थे और वहीं से उन्होंने पुलिस भर्ती का पेपर अभ्यर्थियों को बेचा था। शुक्रवार को उन्हें कांगड़ा में न्यायाधीश शिखा लखनपाल की अदालत में पेश किया गया।

अदालत ने दोनों को पांच दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। इस संदर्भ में आईओ पुष्पराज ने बताया कि पुलिस आरोपियों से पेपर खरीदने और उसे आगे किस-किस को बेचा है, इसके बारे में अब जानकारी हासिल की जाएगी।

आशंका जताई जा रही है कि पूछताछ के बाद जिला कांगड़ा सहित प्रदेश भर में कई और गिरफ्तारियां हो सकती हैं। गौर रहे कि पुलिस कांस्टेबलों के 1334 पदों की भर्ती के लिए 27 मार्च को प्रदेश भर में 81 केंद्रों में लिखित परीक्षा हुई थी। 5 अप्रैल को परीक्षा परिणाम घोषित किया गया था। इसके एक माह बाद अमर उजाला ने 5 मई को पेपर लीक होने का मामला उजागर किया था।

इसके बाद 6 मई को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने परीक्षा रद्द कर मामले की जांच के लिए पुलिस की विशेष जांच टीम (एसआईटी) का गठन कर दिया। इसके बाद पुलिस ने कांगड़ा से ही तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया था। छानबीन का दायरा बढ़ा तो पुलिस ने प्रदेश और बाहरी राज्यों से अब तक करीब 137 आरोपी गिरफ्तार किए, जिनमें बाहरी राज्यों से ही 22 आरोपी शामिल हैं।

समाचार पर आपकी राय: