तालिबानियों ने समलैंगिक शख्स का किया रेप, बाप को फ़ोन कर कहा, तुम्हारा बेटा गे है

जब से तालिबान (Taliban) ने अफगानिस्तान (Afghanistan) पर कब्जा किया है तब से हमें कई भयानक तस्वीरें देखने को मिल रही हैं. लोग देश छोड़ भाग रहे हैं. कई लोगों की इस दौरान दर्दनाक मौत हो चुकी है.

तालिबान राज में सबसे ज्यादा खतरा महिलाओं (Afghanistan Women) को है जो डरी-सहमी अपने आप को महफूज रखने की कोशिश में लगी हुई हैं. मगर इस बीच तालिबानियों की दरिंदगी का एक और उदाहरण देखने को मिला है जिससे पता चला है कि सिर्फ औरतें ही नहीं, तालिबान राज में समलैंगिक समुदाय (LGBTQ Community) के लोग भी खतरे में हैं.

डेली मेल की रिपोर्ट के मुताबिक कुछ तालिबानियों ने एक गे (Gay) शख्स को पीटा और फिर उसके बाद उसका रेप (Rape) किया. वो इतने में ही नहीं रुके, उन्होंने शख्स से उसके पिता का नंबर लिया और उन्हें बताया कि उनका बेटा समलैंगिक है. ये पूरा मामला अफगानिस्तान की राजधानी काबुल (Kabul) का है. रिपोर्ट्स के मुताबिक कई समलैंगिक लोग अफगानिस्तान में अपनी पहचान छुपाने पर मजबूर हो गए हैं क्योंकि उन्हें तालिबानियों से बड़ा खतरा है. बताया जा रहा है कि तालिबानी समलैंगिक लोगों की जान लेने पर तुले हुए हैं. ऐसा ही एक प्राड़ना का मामला साने आया है. रिपोर्ट के मुताबिक दो तालिबानी आतंकवादियों ने एक समलैंगिक शख्स से दोस्ती करने का नाटक किया और फिर उसे उनके पास मिलने के लिए बुलाया. शख्स अपने घर पर ही छुपा रहता था. जब उन्हें तालिबानियों पर विश्वास हो गया तो वो उनसे मिलने गया मगर वे दोनों तालिबानियों ने उससे मिलते ही उसकी खूब पिटाई की और फिर उसका रेप किया. इसके बाद उन्होंने उस शख्स से उसके पिता का नंबर मांगा जिससे वो उन्हें ये बता सकें कि उनका बेटा गे है.

रिपोर्ट के मुताबिक इस घटना का खुलासा अफगानिस्तान के राइट्स एक्टिविस्ट अर्तेमिस अक्बरी (Artemis Akbary) ने किया है जो तुर्की में रह रहा है मगर वो पीड़ित से संपर्क में है. उसने एक न्यूज चैनल से बात करते हुए कहा कि इस तरह की घटना बस एक छोटा सा उदाहरण है ये जानने के लिए कि तालिबान शासन में समलैंगिक लोगों का जीवन कितना मुश्किल है. उसने कहा कि वो बस दुनिया को ये बताना चाहते हैं कि वो बदल चुके हैं मगर ऐसा कुछ भी नहीं है. उनके अंदर कोई बदलाव नहीं आया है.

error: Content is protected !!