Share Market Analysis: तीन महीने बाद 57,000 के पार पहुंचा सेंसेक्स, यहां देखें बीते महीनों में बाजार का हाल

0
77

नई दिल्ली। मंदी की आशंकाओं के बीच बीते कुछ महीनों में शेयर बाजार में रिकॉर्ड गिरावट दर्ज की गई थी। हालांकि, पिछले कुछ कारोबारी सत्रों से शेयर बाजार गुजलार हो गया है। बीते शुक्रवार को कारोबारी सत्र के दौरान सेंसेक्स पिछले तीन महीने के रिकॉर्ड को तोड़ता हुआ 57 हजार के पार हो गया। आर्थिक आंकड़ों में सुधार व विदेशी संस्थागत निवेशकों (Foreign Institutional Investor) की खरीदारी से शेयर बाजारों में कई दिनों से तेजी बनी हुई है।

इसके चलते बीएसई सेंसेक्स तीन माह बाद शुक्रवार को 57 हजार के पार जाकर 712.46 अंकों की बढ़त के साथ 57,570.25 अंक पर बंद होने में कामयाब रहा। इससे पहले सेंसेक्स 29 अप्रैल को 57,060.87 अंक पर बंद हुआ था। वहीं, एनएसई निफ्टी भी करीब तीन माह बाद 17 हजार अंकों के स्तर को पार करते हुए 17,158.25 अंक पर बंद हुआ है। निफ्टी में शुक्रवार को 228.65 अंकों की तेजी रही है। इससे पहले निफ्टी दो मई को 17,069.10 अंकों पर बंद हुआ था।

जुलाई में ही सेंसेक्स में 4,551.31 अंकों की तेजी रही है। वहीं, 30 जून को सेंसेक्स 53,018.94 अंकों पर बंद हुआ था, जो 29 जुलाई को 57,570.25 पर पहुंच गया है। निफ्टी भी 30 जून के 15,780.25 अंकों के स्तर से 1,748 अंक बढ़कर 17,158.15 अंक पर पहुंच गया है।21 कारोबारी सत्रों में 22 लाख करोड़ बढ़ा पूंजीकरण

जुलाई में अब तक 21 कारोबारी सत्रों में सेंसेक्स के बाजार पूंजीकरण में 22.84 लाख करोड़ की वृद्धि हुई है। 30 जून को सेंसेक्स का पूंजीकरण 243.73 लाख करोड़ था, जो 29 जुलाई को बढ़कर 266.58 लाख करोड़ पर पहुंच गया है। शेयर बाजारों में बीते 10 महीनों में पहली बार विदेशी निवेश शुद्ध खरीदार रहे हैं। एनएसडीएल के डाटा के अनुसार, जुलाई में विदेशी निवेशकों ने 4,989 करोड़ रुपये की शुद्ध खरीदारी की है।

मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज रिटेल रिसर्च हेड सिद्धार्थ खेमका कि कंपनियों के बेहतर वित्तीय नतीजों व सकारात्मक वैश्विक संकेतों से घरेलू शेयर बाजारों में लगातार तेजी है। कमोडिटी की कीमतों में नरमी और एफआइआइ की बिक्री में कमी का भी लाभ मिल रहा है।

समाचार पर आपकी राय: