पीएम ने कहा, अब ड्रोन से होगा आलू का ट्रांसपोर्ट; कांग्रेसी नेताओं ने कसे यह तंज

0
47

दशहरा के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिमाचल प्रदेश पहुंचे थे। यहां पीएम मोदी ने एक जनसभा को संबोधित किया, कई योजनाओं की नींव रखीं और AIIMS का उद्घाटन किया। इसके साथ ही प्रधानमंत्री दशहरा रथयात्रा में भी शामिल हुए।

इस दौरान उन्होंने कहा कि ये मेरा सौभाग्य है कि मुझे ऐतिहासिक कुल्लू दशहरे का हिस्सा बनने का अवसर मिला। पीएम मोदी के भाषण का एक हिस्सा शेयर कर कांग्रेस के तमाम नेता उन पर तंज कस रहे हैं।

ड्रोन को लेकर पीएम मोदी ने कही ये बात

पीएम मोदी ने अपने संबोधन के दौरान ड्रोन के उपयोग के बारे में लोगों को बताया। सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि ड्रोन को लेकर हमने नियमों में बदलाव किया है। हिमाचल पहला ऐसा राज्य है जहां ड्रोन को लेकर नीति बनाई गई है। अब ट्रांसपोर्ट के लिए ड्रोन का इस्तेमाल अधिक बढ़ने वाला है और इसलिए किन्नोर में अगर आलू भी है तो उसे उठाकर मंडी तुरंत ला सकते हैं। हमारे फल खराब हो जाते थे अब ड्रोन से उठाकर ला सकते हैं।

पीएम मोदी के बयान पर कांग्रेस नेताओं की प्रतिक्रिया

पीएम मोदी के इस बयान का एक हिस्सा शेयर कर कांग्रेस नेता अलका लांबा ने लिखा कि “शिमला के सेब” तो पहले से ही मोदी जी का पूंजीपति मित्र अडानी ड्रोन से ले उड़ा। अब “किन्नौर के आलूओं” की बारी है। भाजपा सरकार किसानों पर भारी है, जुमले-बाजी की वर्षा जारी है। जबकि कांग्रेस नेता श्रीनिवास ने लिखा कि अब ‘आलू’ Drone से उड़ेगा।

सोशल मीडिया पर अन्य लोग भी इस पर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। एक यूजर ने लिखा कि यहां किसानों को मंडी में आलू बेचने के लिए कोल्ड स्टोरेज से आलू निकालने और उसको मंडी तक पहुंचाने के लिए ट्रैक्टर या ट्रक में ज्यादा खर्चा होगा या ड्रोन में? कितने वजन तक उठा पाएगा ड्रोन? @ErAvaneeshPatel यूजर ने लिखा कि आज किसानों को आलू का सही दाम नहीं मिल रहा है और ये ड्रोन से नीचे नहीं आ रहे हैं।

एक यूजर ने ड्रोन से संबंधित खबर को शेयर कर लिखा कि पीएम मोदी ने राहुल गांधी की तरह आलू से सोना बनाने की बात नहीं कही है, जो नामुमकिन है। मोदी ने वही बोला है, जो अब आत्मनिर्भर भारत में मुमकिन है। @vadhris यूजर ने कांग्रेस नेता को जवाब देते हुए लिखा कि एक ऐसा व्यक्ति जो 2 दशकों से प्रशासक रहा है उसका मज़ाक उड़ाने से पहले आपको यह सोचना चाहिए कि क्या उसके कहने के पीछे वास्तव में सच्चाई है? आप लोग अभी भी गरीबी हटाओ के नारे में फंसे हुए हैं, समझ में नहीं आएगा।

बता दें कि हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बिलासपुर में आयोजित रैली में प्रधानमंत्री को पारंपरिक वाद्य यंत्र ‘रणसिंघा’ भेंट किया। वाद्य यंत्र को बजाने के बाद पीएम मोदी ने कहा, ”यह भविष्य की प्रत्येक जीत की शुरुआत का प्रतीक है।” प्रधानमंत्री ने इस दौरान कहा, भारतीय जनता पार्टी (BJP) सरकार न केवल शिलान्यास करती है, बल्कि विकास परियोजनाओं का उद्घाटन भी करती है।

समाचार पर आपकी राय: