स्पीति में शुरू हुआ नवबर्ष का त्यौहार उत्सव, बौद्ध धर्म का है प्रमुख त्यौहार

0
5

लाहौल-स्पीति। स्पीति उपमंडल में नववर्ष में मनाया जाने वाला लोसर उत्सव शुरू हो गया है। नववर्ष के अवसर पर सोलजोंग छोकपा की पुस्तक मोनलम (प्राणिधान) का कीह बौद्ध विहार के निदेशक और 19वें टीके लोचेन टुलकू ने विमोचन किया।श्रद्धालुओं ने रिन्पोछे के दर्शन कर उनका आशीर्वाद भी लिया।

लोचेन टुल्लकू रिंपोछे और लामाओं ने कीह गोंपा में विश्व की सुख-समृद्धि के लिए प्रार्थना और पूजा-अर्चना की। बता दें कि स्पीति घाटी में तिब्बती कैलेंडर के अनुसार नवें महीने में नववर्ष मनाया जाता है। उत्सव तीन दिन तक चलेगा। पूर्व विधायक रवि ठाकुर और पूर्व मंत्री फुंचोग राय ने बताया कि लोसर उत्सव नववर्ष की शुरुआत का प्रतीक है। तिब्बती कैलेंडर के पहले दिन मनाया जाता है।

हिमालयन क्षेत्र में लोसर का त्योहार पारंपरिक और धार्मिक उत्साह के साथ मनाया जाता है। यह बौद्ध धर्म में आयोजित सबसे महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक है। इस दौरान लोग अपने जीवन में धन, समृद्धि और आनंद के साथ नए साल का स्वागत करने के लिए तैयार रहते हैं। यह त्योहार सांस्कृतिक कार्यक्रमों, अनुष्ठानों एवं पूजा अर्चना का पर्व है।

समाचार पर आपकी राय: