Hijab Controversy: मुस्लिम संगठन कर्नाटक में खोलेंगे 13 नए कॉलेज, नही बैन होगा हिजाब

0
89

कर्नाटक में हिजाब विवाद पूरी तरह खत्म होने के बजाय फिर से बढ़ने लगा है. कर्नाटक के कॉलेजों में मुस्लिम छात्राओं की ओर से लगातार हिजाब पर प्रतिबंध के खिलाफ आवाज उठाई जा रही है.

इस बीच कर्नाटक के मुस्लिम संगठनों ने राज्य के दक्षिणी जिलों में नए निजी कॉलेज खोलने की तैयारी कर ली है. उनकी ओर से 13 नए निजी कॉलेज खोलने के लिए आवेदन किया गया है. यह भी कहा गया है कि इन कॉलेजों में छात्राओं के लिए हिजाब पर कोई बैन नहीं होगा.

वहीं यह भी जानकारी सामने आई है कि अल्पसंख्यकों की ओर से इससे पहले निजी कॉलेज खोलने के लिए इतनी बड़ी संख्या में आवेदन कभी नहीं दिए गए थे. पिछले पांच साल की बात करें तो इस दौरान उनकी ओर से एक भी निजी कॉलेज खोलने के लिए कोई आवेदन नहीं किया गया था. वहीं कर्नाटक में अगले साल यानि 2023 में विधानसभा चुनाव भी होने हैं. इसके लिए सभी दल अभी से तैयारियां करने में जुटे हैं. ऐसे में इस मामले के जानकारों का मानना है कि जब नए कॉलेज खुल जाएंगे तो राज्य में हिजाब विवाद और गहरा जाएगा.

एक छूट का फायदा उठाने की कोशिश

बता दें कि कर्नाटक के सभी सरकारी शिक्षण संस्थानों में छात्राओं के हिजाब पहनने पर पर पाबंदी लगी हुई है. यह मामला सुप्रीम कोर्ट तक भी गया था और इस बैन के चलते बड़ी संख्या में छात्राओं ने अपनी परीक्षाएं छोड़ दी थीं. बता दें कि कर्नाटक में कांग्रेस की इससे पहले की सरकार के दौरान सरकारी शिक्षण संस्थानों में ड्रेस कोड को लागू कर दिया गया था. लेकिन प्राइवेट स्कूलों को ड्रेस कोड लागू करने की छूट दी गई थी. ऐसे में इस बात का फैसला निजी स्कूल ले सकते हैं कि वे अपने यहां हिजाब पर प्रतिबंध लगाएंगे या नहीं.

एक आवेदन मंजूर, अन्य की जांच जारी

माना जा रहा है कि हिजाब बैन पर फैसला लेने में मिली छूट का फायदा उठाने के लिए ही मुस्लिम संगठनों ने 13 नए निजी कॉलेज खोलने का निर्णय लिया है. इसमें बड़ी बात यह है कि शिक्षा विभाग की ओर से एक आवेदन को मंजूर भी कर लिया गया है. साथ ही मुस्लिम संगठनों की ओर से किए गए अन्य आवेदनों की जांच की जा रही है. शिक्षा विभाग के अफसरों का कहना है कि अगर इन आवेदनों में कॉलेज खोलने को लेकर सभी मापदंड पूरे पाए जाते हैं तो उन्हें मंजूरी मिल सकती है.

समाचार पर आपकी राय: