Shradha: जाने क्या लिखा था श्रद्धा ने अंतिम Instagram पोस्ट पर, हत्या से सात दिन पहले लिखा, हर गुजरते दिन के साथ…

0
3

Shraddha Murder Case: दिल्ली के छतरपुर में श्रद्धा वाकर मर्डर केस में मृतका का आखिरी इंस्टाग्राम पोस्ट सामने आया है। जानकारी सामने आई है कि हत्या की वारदात से ठीक सात दिन पहले यानी 11 मई को श्रद्धा ने अपना आखिरी इंस्टा पोस्ट डाला था।

श्रद्धा ने हिमाचल प्रदेश में एक किताब पढ़ते हुए अपनी एक तस्वीर पोस्ट की थी। इसके कैप्शन में लिखा था, ”हर गुजरते दिन ज्यादा से ज्यादा एक्सप्लोर करना।”

बता दें कि श्रद्धा के लिव इन पार्टनर आफताब अमीन पूनावाला ने 18 मई को उसकी हत्या कर दी थी और शव के 35 टुकड़े कर उन्हें ठिकाने लगा दिया था। फिलहाल, आरोपी आफताब को हिरासत में रखा गया है। आफताब ने सोशल मीडिया अकाउंट पर खुद को फूड ब्लॉगर बताया था और उसके 28,000 से अधिक फॉलोअर्स हैं।

सोशल मीडिया पर ज्यादा एक्टिव नहीं थी श्रद्धा

श्रद्धा वाकर सोशल मीडिया पर ज्यादा एक्टिव नहीं रहती थी। उसने अपने सोशल मीडिया प्रोफाइल पर खुद को ‘भटकने वाला’ बताया था, यानी वो घूमने में ज्यादा रूचि रखती थी। इंस्टाग्राम पर उसके 2700 से अधिक फॉलोवर्स थे। श्रद्धा के अधिकांश पोस्ट में अलग-अलग लोकेशन के फोटोज थे।

इससे पहले चार मई को श्रद्धा ने उत्तराखंड के ऋषिकेश में गंगा के किनारे एक शांत जगह से एक इंस्टाग्राम रील भी पोस्ट की थी। कैप्शन से पता चलता है कि वह यात्रा करने की काफी शौकीन थी और नई जगहों की खोज करना पसंद करती थी।

ऋषिकेश वाले पोस्ट में श्रद्धा ने लिखा कि 1500 किलोमीटर की यात्रा के एक लंबे थका देने वाले दिन के बाद मैंने अपने दिन को सूर्यास्त के दृश्य के साथ समाप्त करने का फैसला किया। ये केवल दो पोस्ट हैं जो उन्होंने मुंबई से दिल्ली शिफ्ट होने के बाद सोशल मीडिया पर शेयर की थीं।

14 फरवरी को आफताब के साथ फोटो पोस्ट कर लिखा- हैपी डेज

14 फरवरी को वैलेंटाइन डे के दिन श्रद्धा ने आफताब के साथ एक तस्वीर पोस्ट की और कैप्शन में लिखा- ”हैप्पी डेज।” यह एकमात्र तस्वीर थी जिसे उसने आफताब के साथ इंस्टाग्राम पर साझा किया था।

इंस्टाग्राम पर श्रद्धा की पहली तस्वीर ट्रेन के दरवाजे के पास खड़ी है, जिसके कैप्शन में लिखा है, ”मंजिल का इंतजार है।” उसी साल उन्होंने हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड की तस्वीरें भी शेयर कीं। उसके इंस्टा अकाउंट में 2021 में कोई पोस्ट नहीं था।

एक महीने तक श्रद्धा का इंस्टा चलाता रहा था आफताब

पुलिस ने कहा कि श्रद्धा की हत्या के बाद आफताब अमीन पूनावाला करीब एक महीने तक उसका इंस्टाग्राम अकाउंट चलाता था, ताकि किसी को भी शक न हो। पुलिस सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि आफताब श्रद्धा बनकर 9 जून तक उसका इंस्टा चलाता रहा था और उसके दोस्तों के साथ चैट करता था। इसके बाद उसने श्रद्धा के फोन को फेंक दिया था।

समाचार पर आपकी राय: