कारदार ने देवता घटोत्कछ को किया बंद, फरियाद लेकर डीसी ऑफिस पहुंचे ग्रामीण

0
2

जिला कुल्लू की गड़सा घाटी के जुल्ली गांव में देवता घटोत्कच को जल्द से जल्द वापस अपने मूल स्थान में लाया जाए। ताकि ग्रामीण शांतिपूर्ण तरीके से देवता की पूजा आराधना कर सके। इसी मांग को लेकर वीरवार को ग्रामीणों का एक प्रतिनिधिमंडल ढालपुर में डीसी कुल्लू आशुतोष गर्ग से मिला और 6 महीने से चल रहे विवाद के बारे में भी डीसी को अवगत करवाया गया।

प्रतिनिधिमंडल में शामिल ग्रामीण पवन कुमार का कहना है कि देवता घटोत्कच का मंदिर गड़सा घाटी की भलान एक पंचायत के जुल्ली गांव में स्थित है।

लेकिन कुछ माह पहले यह मंदिर पहले गिर गया था। ऐसे में गांव के ही एक व्यक्ति के द्वारा देवता का किसी अन्य व्यक्ति के घर में रख दिया गया। जब कुछ ग्रामीण अपने समारोह में देवता के रथ।को लाने के लिए गए तो वहां पर दूसरे पक्ष के लोग मारपीट करने पर उतारू हो गए।।जबकि वह लोग अपने समारोह में देवता का अपनी मर्जी से ले जा रहे हैं।

ग्रामीण पवन कुमार ने डीसी कुल्लू आशुतोष को अवगत करवाया कि 6 माह पहले भी इसकी शिकायत जिला प्रशासन से की गई थी और एसडीएम कुल्लू इस रिपोर्ट को तैयार कर रहे थे। लेकिन इस रिपोर्ट में किस के बयान क्या दर्ज किए गए हैं। इसके बारे में अभी अभी तक उन्हें कोई जानकारी नहीं है। ऐसे में प्रतिनिधि मंडल में शामिल ग्रामीणों ने डीसी आशुतोष से आग्रह किया कि जल्द इस रिपोर्ट को पूरा करें और सभी ग्रामीण चाहते हैं कि देवता अपने मूल स्थान पर वापस लौट आए। ताकि सभी लोग शांतिपूर्ण तरीके से देवता की पूजा आराधना कर सके।

समाचार पर आपकी राय: