यात्रियों से भरी एचआरटीसी बस की ट्राले के साथ हुई भिड़त, बाल बाल बचे 40 से ज्यादा लोग

ऊना : हिमाचल पथ परिवहन निगम की अमृतसर से मनाली जा रही बस शनिवार देर रात समूर खुर्द के पास हादसा ग्रस्त हो गई। हादसे के दौरान बस में करीब 40 यात्री सवार थे लेकिन गनीमत रही कि किसी को भी इस हादसे में चोट नहीं आई।

हालांकि हादसे के दौरान बस बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। जिसके चलते हिमाचल पथ परिवहन निगम के ऊना डिपो के अधिकारियों ने यात्रियों को रवाना करने के लिए एक और बस भेजी। हादसा बस और ट्रक के बीच हुई भिड़ंत के चलते हुआ है। गनीमत रही कि बस और ट्राले की आमने-सामने भिड़ंत नहीं हुई। सामने से आ रहे अनियंत्रित ट्राले ने बस की ड्राइवर साइड में टक्कर मारी। वहीं यात्रियों ने भी चोट नहीं आने के चलते कोई शिकायत नहीं की। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पुलिस टीम पहुंची और मामले की जांच शुरू कर दी है।

ऊना जिला मुख्यालय से करीब 8 किलोमीटर की दूरी पर स्थित समूर खुर्द गांव में शनिवार देर रात उस वक्त एक बड़ा हादसा टल गया जब अमृतसर से मनाली जा रही एचआरटीसी की बस के साथ सामने से आ रहा एक बेकाबू ट्राला जा भिड़ा। हादसे के दौरान बस में 40 से ज्यादा यात्री सवार थे। हालांकि इस दौरान किसी को भी चोटें नहीं आई हैं। लेकिन बस की ड्राइवर साइड काफी बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हुई। जिसके चलते उसकी खिड़कियों और इमरजेंसी डोर तक टूट गया। आनन-फानन में यात्रियों को बस से नीचे उतार कर एक ढाबे पर बिठाया गया। वहीं निगम के अधिकारियों ने यात्रियों को रवाना करने के लिए अन्य बस उपलब्ध कराई।

बस के चालक सुनील कुमार का कहना है कि वह अपने नियमित समय के अनुसार आईएसबीटी ऊना से मनाली के लिए रूट लेकर निकले थे। समूर खुर्द पहुंचने पर सामने से आ रहे बेकाबू ट्राले को देखकर उन्होंने पहले ही बस को काफी हद तक साइड में कर लिया था। लेकिन इसके बावजूद ट्राला चालक अपने वाहन पर काबू नहीं रख सका और बस की चालक साइड को रगड़ते हुए निकल गया। बस चालक ने एक अन्य वाहन चालक की मदद से बेकाबू ट्राला चालक को जिला मुख्यालय के नजदीकी गांव डंगोली में आकर दबोचा। वहीं हादसे की सूचना निगम के अधिकारियों समेत पुलिस को भी दी गई। जिसके बाद एचआरटीसी और पुलिस के अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर घटना का जायजा लिया और जांच शुरू

Please Share this news:
error: Content is protected !!