शिमला में भारी बारिश का दौर जारी, चम्याणा नाले में मलबा आने से यातायात ठप्प

0
85

शिमला: प्रदेश में बारिश का दौर जारी है. जगह-जगह नदी-नालों के उफान पर होने के चलते लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. वहीं, पहाड़ों की रानी शिमला में 24 घंटों से बारिश का दौर जारी है. भूस्खलन के मामले लगातार सामने आ रहे हैं.शुक्रवार-शनिवार की दरम्यानी रात को बरसात के कारण चम्याणा (Chamyana Road closed due to landslide) नाले में पानी का बहाव तेज हो गया और पानी के साथ क मलबा सड़क पर आ गया.

सड़क पर मलबा, रोड बंद: सड़क मलबे में तबदील हो गई ,जिसके चलते चम्याणा के लिए आवाजाही पूरी तरह से बंद हो गई है. सुबह के समय लोगों को दूध, सब्जियां लेकर पैदल ही नेशनल हाइवे तक आना पड़ा. इसके अलावा स्कूल व कॉलेज जाने वाले बच्चों को भी पैदल आना पड़ा. वहीं, सड़क को बहाल करने के लिए सुबह से जेसीबी को लगाया गया, ताकि मार्ग को फिर शुरू किया जा सके.सड़क पर मलबा आने से आवाजाही ठप

कुछ दिन पहले भी गिरा था मलबा: कुछ दिन पहले भी इसी जगह पर मलबे में गाड़ियां दबी थी.वहीं, दोबारा मलबा गिरने से शनिवार को फिर से चम्याणा सड़क पूरी तरह से बंद हो गई. स्थानीय निवासी नरेन्द्र ठाकुर ने कहा कि नाले में आया मलबा सड़क पर आ गया, जिससे वाहनों की आवाजाही बंद हो गई.

3 अगस्त तक रहेगा मौसम खराब: बता दें हिमाचल में तेज बारिश लगातार हो रही है. इस बार जुलाई महीन में कई सालों के रिकॉर्ड भी टूट रहे है. मौसम विभाग ने 3 अगस्त तक बारिश होने की बात कही है. इसके लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है. इस दौरान लैंडस्लाइड सहित नदी- नालों के उफान पर होने की बात भी कही गई है.

समाचार पर आपकी राय: