कंजरवेटिव पार्टी की नेता लिज ट्रस ब्रिटेन की तीसरी महिला प्रधानमंत्री बनी

0
44

RIGHT NEWS INDIA: ब्रिटेन को नया प्रधानमंत्री मिल चुका है. कंजरवेटिव पार्टी की नेता लिज ट्रस ब्रिटेन की नई प्रधानमंत्री बन गयी हैं. बोरिस जॉनसन के पद से हटने के पीएम पद के लिए लिज ट्रस (Britain New PM Liz Truss)और ऋषि सुनक (Rishi Sunak) के बीच चुनाव हुआ था, जिसमें ट्रस को जीत मिली है.

यह पहली बार है जब ब्रिटेन के पीएम पद की घोषणा बकिंघम पैलेस से नहीं बल्कि स्कॉटलैंड से हुआ है. ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ इस समय स्कॉटलैंड के बलमॉरल पैलेस में है. ऐसे में यह ऐलान बलमॉरल पैलेस से हुआ है.

लिज ट्रस (Who is Liz Truss) को ब्रिटेन की सियासत में फायरब्रांड नेता के तौर पर जाना जाता है. दो महीने चले इलेक्शन कैम्पेन में उनकी एप्रोच कभी डिफेंसिव नहीं रही. लिज ट्रस ब्रिटेन के इतिहास की तीसरी ऐसी महिला हैं जो प्रधानमंत्री की कुर्सी पर काबिज हुई हैं. इससे पहले मार्गेट थैचर और थेरेस मे ब्रिटेन में पीएम का पद संभाल चुकी हैं. ब्रिटेन की तीनों महिला प्रधानमंत्री कंजरवेटिव पार्टी की हुई हैं. लिज ट्रस बीते छह साल में देश की चौथी पीएम भी हैं। इससे पहले डेविड कैमरन, थेरेसा मे, बोरिस जॉनसन 2016 से लेकर 2022 तक अलग-अलग अंतराल में पीएम पद पर रहे हैं.

आइए जानते हैं कौन हैं लिज ट्रस और कैसे वो मंत्री से प्रधानमंत्री की कुर्सी तक पहुंचीं…

  • 47 साल की लिज ट्रस का पूरा नाम एलिजाबेथ मैरी ट्रस है. 1975 में ऑक्सफोर्ड में उनका जन्म हुआ. सरकारी स्कूल में पढ़ीं ट्रस के पिता गणित के प्रोफेसर और मां एक नर्स थीं.
  • ब्रिटिश मीडिया अक्सर पूर्व प्रधानमंत्री मार्गरेट थ्रेचर से उनकी तुलना करता है. आपको जानकर हैरानी होगी कि ट्रस ने सात साल की उम्र में अपने स्कूल का मॉक इलेक्शन लड़ा था. उस समय उन्हें 0 वोट मिले थे. आज वो ब्रिटेन की प्रधानमंत्री बन चुकी हैं.
  • लिज ट्रस ने ऑक्सफोर्ड से दर्शन, राजनीति और अर्थशास्त्र की पढ़ाई की है. पढ़ाई पूरी करने के बाद उन्होंने कुछ समय के लिए अकाउंटेंट के रूप में भी काम किया. इसके बाद वह राजनीति में आ गईं.
  • लिज ट्रस ने 1994 में ब्रिटेन की राजशाही का खुले तौर पर विरोध किया था. लिज ट्रस ने सबसे पहला चुनाव पार्षद का जीता था.
  • ट्रस का परिवार लेबर पार्टी का समर्थक था, लेकिन ट्रस को लेबर पार्टी की विचारधारा के उलट, कंजरवेटिव पार्टी की विचारधारा पसंद आई.
  • ट्रस को राइट विंग का कट्टर समर्थक माना जाता है. इसलिए वह ऋषि सुनक की तुलना में मतदाताओं के बीच अधिक स्वीकार्य हैं. लिज ट्रस 22 सालों से पार्टी में सक्रिय हैं. लिज ट्रस पहली बार 2010 में सांसद चुनी गईं.
  • ट्रस, साउथ वेस्ट नॉर्थफोक की सांसद हैं और फॉरेन कॉमन वेल्थ एंड डेवलपमेंट अफेयर्स सेक्रेटरी रह चुकी हैं. ट्रस दो साल इंटरनेशनल ट्रेड सेक्रेटरी भी रहीं.
  • पिछले साल उन्हें यूरोपियन यूनियन से बातचीत का अहम जिम्मा सौंपा गया था. ट्रस शुरुआत में यूरोपियन यूनियन से अलग होने के मुद्दे खिलाफ थीं. हालांकि, बाद में ब्रेग्जिट के हीरो बनकर उभरे बोरिस जॉनसन के समर्थन में आ गईं.

Leave a Reply