अंतरिक्ष में पहली बार शूट होने वाली फिल्म बनी “चैलेंज”, 12 दिन की शूटिंग के बाद वापिस लौटी रूस की टीम

अंतरिक्ष में पहली बार किसी फिल्म की शूटिंग करने का इतिहास रचने के बाद फिल्म की टीम रविवार को सकुशल धरती पर वापस लौट आई। फिल्म की शूटिंग के लिए क्रू ने अंतरिक्ष में 12 दिन बिताए। चैलेंज नामक यह फिल्म की अंतरिक्ष में शूट होने वाली पहली फिल्म बन गई है। इसकी कहानी के कुछ हिस्सों को आइएसएस में फिल्माया गया है। इस क्रू में अभिनेत्री यूलिया पेरेसिल्ड और निर्देशक क्लिम शिपेंको शामिल हैं, जबकि उनके साथ अंतरिक्ष यात्री ओलेग नोवित्स्की भी वापस लौटे हैं, जो 191 दिन से ISS पर मौजूद थे।

अभिनेत्री पेरेसिल्ड और फिल्म निर्देशक शिपेंको ‘चैलेंज’ नाम की फिल्म के कुछ हिस्सों की शूटिंग के लिए पांच अक्टूबर को अंतरिक्ष केंद्र पहुंचे थे। जिसके बाद उन्होंने 12 दिन वहीं गुजारे। ‘चैलेंज’ की शूटिंग के लिए फिल्म की टीम को ट्रेनिंग दी गई थी। फिल्म के अलग-अलग सीन्स को फिल्माने के लिए फिल्म की टीम ने स्पेस में 12 दिन बिताने के दौरान ISS पर 35-40 मिनट लंबे एक सीक्वेंस को भी फिल्माया।

फिल्म की कहानी के मुताबिक इस फिल्म में सर्जन का किरदार निभा रहीं पेरेसिल्ड को एक क्रू सदस्य को बचाने के लिए अंतरिक्ष केंद्र में जाना पड़ता है। अंतरिक्ष की कक्षा में ही सदस्य को तत्काल ऑपरेशन की जरूरत होती है। अंतरिक्ष केंद्र में छह महीने से ज्यादा समय बिताने वाले नोवित्स्की ने फिल्म में बीमार अंतरिक्ष यात्री का किरदार निभाया है।

अंतरिक्ष में ‘चैलेंज’ मूवी की शूटिंग कर इतिहास रचने के साथ ही रूस ने हॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता टॉम क्रूज को पीछे छोड़ दिया। दरअसल, टॉम ने 2020 में NASA और एलन मस्क की कंपनी स्पेस एक्स के साथ मिलकर एक फिल्म की अंतरिक्ष में शूटिंग की घोषणा की थी। 

अंतरिक्ष में रूस और अमेरिका के बीच यह होड़ नई नहीं है। शीतयुद्ध के समय से ही दोनों देश अंतरिक्ष प्रोजेक्ट को लेकर एक-दूसरे को पछाड़ने की कोशिश करते रहे हैं। रूस ने जहां सबसे पहला अंतरिक्ष यान लॉन्च करने और एक जानवर को स्पेस में पहले भेजने में सफलता पाई, तो वहीं अमेरिका ने चांद पर पहले अंतरिक्ष यात्री को उतारकर इतिहास बनाया था।

Please Share this news:
error: Content is protected !!