तकनीकी विश्वविद्यालय में बीटेक, बीसीए और एमएससी की कक्षाओं को मिली मंजूरी: शशि कुमार धीमान

0
82

हिमाचल प्रदेश तकनीकी विश्वविद्यालय हमीरपुर में बीटेक (कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग), बीसीए और एमएससी (गणित और कम्प्यूटेशनल विज्ञान) की कक्षाएं शुरू करने के लिए मंजूरी मिल गई है।

यह बात मंगलवार को तकनीकी विवि के कुलपति प्रो. शशि कुमार धीमान ने पत्रकार वार्ता में कही। कुलपति ने कहा कि तकनीकी विवि ने आने वाले समय में राष्ट्रीय शिक्षा नीति में नए कोर्स को शुरू करने की योजना बनाई है। चार साल के नए कोर्स में विज्ञान स्नातक (बीएस) में कंप्यूटर साइंस एंड एप्लीकेशन में कृत्रिम बुद्धिमत्ता, मशीन लर्निंग, डाटा साइंस, स्वास्थ्य, कृषि, प्रबंधन विज्ञान, विश्लेषण और विश्लेषण और सतत अध्ययन में स्वास्थ्य डाटा और सतत विकास शामिल है।

कुलपति ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 का क्रियान्वयन करना तकनीकी विवि की प्राथमिकता है। इसके लिए तकनीकी विवि और संबंधित शिक्षण संस्थानों के साथ प्रारूप तैयार किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि चरणबद्ध तरीके से राष्ट्रीय शिक्षा नीति को तकनीकी विवि और संबंधित शिक्षण संस्थानों में लागू करने की योजना है, जिससे विद्यार्थियों को लाभ मिल सकें। तकनीकी विवि परिसर में जल्द ही स्थाई प्राध्यापकों सहित अन्य गैर शिक्षक वर्ग के पदों नियुक्ति की जाएगा। प्रदेश सरकार से प्राध्यापकों के 32 और गैर-शिक्षक वर्ग के 19 पदों को भरने की स्वीकृति मिली है। शिक्षकों की नियुक्ति के बाद इन तीनों कोर्सों की कक्षाएं भी तकनीकी विवि परिसर में शुरू की जाएगी। इस दौरान अधिष्ठाता शैक्षणिक प्रो राजेंद्र गुलेरिया, अधिष्ठाता योजना और विकास डॉ. जयदेव भी उपस्थित रहे।

हर घर तिरंगा कार्यक्रम में निभाएंगे भूमिका
आजादी के अमृत महोत्सव के तहत हर घर तिरंगा कार्यक्रम में तकनीकी विवि और संबंधित शिक्षण संस्थान भी अपनी भूमिका निभाएंगे। 11 से 15 अगस्त तक प्रभात फेरी निकाली जाएगी। प्रभातफेरी में विद्यार्थियों के साथ स्थानीय युवक मंडलों, एनएसएस स्वयंसेवियों, एनसीसी कैडेट्स सहित अन्य युवाओं की सहभागिता सुनिश्चित की जाएगी। नुक्कड़ सभा, बलिदानियों के घर तिरंगा लहराने, पोस्टर, रंगोली बनाने के कार्यक्रम भी किए जाएंगे। एक विद्यार्थी अपने घर के आसपास के कम से कम पांच घरों में तिरंगा फहराने में योगदान देगा।

समाचार पर आपकी राय: