90 दिन बाद बंद कमरे में रोएंगे मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर, युवा आक्रोश रैली में बोले मुकेश अग्निहोत्री

0
75

ऊना: हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव की आहट नजदीक आते-आते प्रदेश में सियासी गतिविधियां जोर पकड़ने लगी है. इसी के चलते राजनीतिक दलों के नेता जनता के साथ वायदों का खेल भी अब खुलकर खेलने लगे हैं. इसी कड़ी में रविवार को हरोली युवा कांग्रेस द्वारा आयोजित की गई युवा आक्रोश रैली में नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करते हुए घोषणाओं की झड़ी लगा दी. सबसे बड़ी बात यह कि मुकेश अग्निहोत्री ने कर्मचारियों को पुरानी पेंशन स्कीम (mukesh agnihotri on ops in himachal) देने के लिए माता चिंतपूर्णी की कसम मंच से खा ली.

युवा कांग्रेस की आक्रोश रैली में हरोली विधानसभा क्षेत्र (Haroli Assembly constituency) से कांग्रेस कार्यकर्ताओं का सैलाब उमड़ा रहा. मुकेश अग्निहोत्री ने मंच से घोषणाओं का पिटारा खोलते हुए कांग्रेस को सत्ता में लाने का आह्वान भी किया. इस मौके पर नेता प्रतिपक्ष ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को निशाने पर लेते हुए कहा कि मुख्यमंत्री उन्हें बंद कमरे में बैठकर बोलने वाला नेता बताते हैं, लेकिन 90 दिन के बाद खुद जयराम ठाकुर बंद कमरे में बैठकर रोएंगे.

हिमाचल में ओल्ड पेंशन स्कीम पर मुकेश अग्निहोत्री का बड़ा बयान

हरोली युवा कांग्रेस की युवा आक्रोश रैली में एक तरफ जहां युवा कांग्रेस कार्यक्रर्ताओं ने भाजपा के खिलाफ जमकर आक्रोश दिखाया. वहीं, रैली को संबोधित करते हुए नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को निशाने (Leader of Opposition Mukesh Agnihotri on Jairam Government) पर लिया और एक के बाद एक बड़ी घोषणाएं करते हुए जनता से कांग्रेस को सत्ता में लाने की अपील की. नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री को बंद कमरे में बैठकर बातें करने वाला नेता बताते हैं, लेकिन 90 दिन के बाद खुद जयराम ठाकुर बंद कमरे में बैठकर आंसू बहाएंगे.ऊना दौरे पर मुकेश अग्निहोत्री ने लगाई घोषणाओं की झड़ी.

नेता प्रतिपक्ष ने पुरानी पेंशन स्कीम को लेकर आंदोलनरत कर्मचारियों और पेंशनर्स को आश्वासन देने के लिए माता चिंतपूर्णी की कसम उठाने से भी गुरेज नहीं किया. उन्होंने कहा कि वह माता चिंतपूर्णी की कसम खाते हैं कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार के सत्ता में आते ही पुरानी पेंशन स्कीम को लागू कर हिमाचल प्रदेश के लाखों कर्मचारियों और पेंशनर्स को लाभान्वित किया जाएगा.

वहीं, मुकेश अग्निहोत्री (Leader of Opposition in Una) ने युवाओं को भी प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से 20 लाख नौकरियां देने का वादा किया. इतना ही नहीं उन्होंने मौजूदा सरकार द्वारा लागू की गई योजनाओं को और भी सरल और लोक लुभावनी बनाने के फायदे मंच से किए. इस मौके पर नेता प्रतिपक्ष ने किसानों के लिए बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि कृषि कामों के लिए ट्रैक्टर लेने की पर मौजूदा सरकार 25 प्रतिशत सब्सिडी दे रही है, लेकिन कांग्रेस इस सब्सिडी को बढ़ाकर 75% करेगी.

उन्होंने मुख्यमंत्री शगुन योजना के तहत लाभार्थियों को एक लाख रुपए देने, किसानों को खेतों की बाढ़ बंदी करने के लिए 90 फीसदी अनुदान देने और 18 से 60 वर्ष आयु वर्ग तक की महिलाओं को 1500 रुपये प्रति माह पेंशन देने का भी ऐलान किया. उन्होंने छात्राओं की स्कूल से लेकर कॉलेज तक की शिक्षा का खर्च सरकार द्वारा उठाए जाने और साथ ही महिलाओं के स्वास्थ्य संबंधी परेशानी में उनका साथ देने के लिए निशुल्क उपचार करवाने का भी वायदा किया. नेता प्रतिपक्ष के कारोबारियों से लेकर समाज के प्रत्येक वर्ग को लाभ देने का ऐलान करते हुए एक तरह से कांग्रेस के चुनावी घोषणापत्र (Himachal Assembly Elections 2022) का ही ऐलान कर डाला.

समाचार पर आपकी राय: