शिमला में भालू के हमले से 600 भेड़ बकरियों की मौत, प्रशासन पहुंचा मौके पर

0
69

हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले की रोहडू तहसील चिड़गांव के चंद्रनाहन जंगल में भालू के हमले में करीब 600 भेड़-बकरियों की मौत हो गई है। भालू ने हमला रात के समय चौगान में इकट्ठा भेड़-बकरियों के झुंड पर किया।

सूचना के बाद प्रशासन ने टीम मौके पर भेजी है। सड़क से दूर होने के कारण देर शाम तक टीम वापस नहीं आई है। जानकारी के अनुसार चंद्रनाहन के जंगल में बरशील और पेखा के झटवाड़ी गांव से करीब 21 लोगों की भेड़-बकरियां चराने के लाई गई थीं। शनिवार रात को खुले मैदान में बैठे भेड़-बकरियों के झुंड पर भालू ने हमला बोल दिया। भालू के डर से करीब साढे़ पांच सौ भेड़-बकरियों ने ढांक से कूद गईं। इससे ढांक से गिरने के कारण इनकी मौत हो गई।

हादसे के समय भेड़पालक समीप ही पानी के नाले के साथ सो रहे थे। उन्हें घटना का पता सुबह चला। मौके पर जाकर देखा तो भेड़-बकरियां मरी हुई थीं। उसके बाद उन्होंने खोजबीन की तो पास ही ढांक में संकड़ों भेड़-बकरियां मृत मिलीं। भेड़ पालकों ने इसकी सूचना एसडीएम रोहड़ू को दी। एसडीएम ने मौके पर टीम रवाना की है। कई घंटे का पैदल रास्ता होने के कारण देर शाम तक राजस्व विभाग और चिकित्सकों की टीम वापस नहीं लौटी है। फोन पर सूचना मिली कि भालू के हमले में बरशील और भटवाड़ी गांव के 21 लोगों के मवेशी मरे हैं। एसडीएम सन्नी शर्मा ने कहा कि टीम मौके पर भेजी गई है। उनके लौटने पर मृत भेड़ बकरियों के सही आंकड़ा पता चल सकेगा। पांच से छह सौ भेड़-बकरियों के मरने की सूचना मिली है।

Leave a Reply