महिला आयोग पहुंची उज्बेकिस्तान की सात महिलाएं, कहा, नौकरी के बहाने बुलाया और करवाई वेश्यावृति

0
40

द‍िल्‍ली. दिल्ली महिला आयोग (DCW) ने अंतरराष्ट्रीय तस्करी और वेश्यावृत्ति रैकेट (International trafficking and Prostitution Racket) की शिकायत मिलने के बाद दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के क्राइम ब्रांच डीसीपी को नोटिस जारी किया है.

उज्बेकिस्तान (Uzbekistan) की सात महिलाओं ने आयोग में एक शिकायत दर्ज करवाई थी. उन्होंने आरोप लगाया है कि उन्हें नौकरी दिलाने के बहाने भारत लाया गया था, लेकिन जब वे यहां पहुंचीं तो उन्हें जबरन वेश्यावृत्ति के धंधे में धकेल दिया गया.

उन्होंने बताया कि अलग-अलग समय पर पर्यटक वीजा और मेडिकल वीजा पर उनमें से कुछ को नेपाल के रास्ते दिल्ली और कुछ को सीधे भारत लाया गया था. उन्होंने आरोप लगाया कि जिन्हें नेपाल के माध्यम से लाया गया था, उनके पासपोर्ट और अन्य दस्तावेज नेपाल में ही छीन लिए गए और फिर उन्हें दिल्ली लाया गया, जबकि अन्य महिलायें जिनको मेडिकल वीजा पर दिल्ली लाया गया, उनका पासपोर्ट और अन्य दस्तावेज दिल्ली आकर छीन लिए गए.

उन्होंने बताया कि जब वे भारत पहुंचे तो उन्हें जबरन वेश्यावृत्ति के लिए मजबूर किया गया और जब उन्होंने विरोध किया तो उन्हें धमकाया गया और मारा पीटा गया, और उनको जेल में डाल देने की भी धमकी दी गयी. उन्होंने बताया कि दिल्ली में रहने के दौरान उन्हें अलग-अलग मालिकों को बेचा गया और उनके साथ बार-बार बलात्कार किया गया. एक महिला ने आरोप लगाया है कि एक व्यक्ति उसके मालिक के घर आता था जो खुद को पुलिस वाला बताता था, उसके पास एक बंदूक थी, और वह अक्सर उसे धमकी देता था.

उज्बेकिस्तान दूतावास के पास से बंदूक की नोक पर एक महिला का अपहरण भी क‍िया

उन्होंने बताया कि किसी तरह वे वहां से भागने में सफल रहीं और कुछ दिन पहले उज्बेकिस्तान दूतावास (Uzbekistan Embassy) के गेट पर पहुंच गयीं. महिलाओं ने आरोप लगाया कि जब वे उज्बेकिस्तान दूतावास गईं तो दो आरोपी दूतावास के गेट पर पहुंचे और बंदूक की नोक पर एक महिला का अपहरण कर लिया. उन्होंने बताया कि जब दूतावास ने अपहृत महिला से संपर्क किया तो तस्करों ने उसे छोड़ दिया.

शिकायतकर्ताओं ने बताया कि इसके बाद सात महिलाएं फिर से उज्बेकिस्तान दूतावास पहुंचीं जहां कुछ पुलिस कर्मियों ने उनके बयान दर्ज किए. उन्होंने आरोप लगाया है कि उन्हें वर्तमान में उनके पास तस्करों से धमकी भरे फोन आ रहे हैं.

डीसीपी अपराध शाखा से दो स‍ितंबर तक मांगी कार्रवाई र‍िपोर्ट

आयोग ने दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा को नोटिस जारी कर मामले में की गई कार्रवाई की रिपोर्ट मांगी है. आयोग ने दिल्ली पुलिस से गिरफ्तार आरोपियों का विवरण देने को कहा है. आयोग ने दिल्ली पुलिस से अंतरराष्ट्रीय तस्करी रैकेट की गहन जांच करने को भी कहा है. इसके अलावा आयोग ने दिल्ली पुलिस से कहा है कि वह तस्करों के चंगुल से महिलाओं को उनके दस्तावेज वापस दिलाने में मदद करें. आयोग ने मामले में 2 स‍ितंबर, 2022 तक की गई कार्रवाई रिपोर्ट मांगी है.

महिलाओं और लड़कियों की अंतर्राष्ट्रीय सीमाओं से तस्करी कर लाया जा रहा भारत

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्षा स्वाति मालीवाल ने कहा क‍ि दिल्ली तस्करों का केंद्र बन गई है. तस्कर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर काम कर रहे हैं और महिलाओं और लड़कियों को अंतर्राष्ट्रीय सीमाओं के पार भारत से तस्करी कर लाया जा रहा है. यदि तस्कर महिलाओं और लड़कियों को अंतर्राष्ट्रीय सीमाओं के पार ले जाने का प्रबंध कर सकते हैं, तो यह राष्ट्र की सुरक्षा और सुरक्षा के लिए भी खतरा बन जाता है. दिल्ली पुलिस द्वारा रैकेट की गहनता से जांच की जानी चाहिए और रैकेट के सरगनाओं की पहचान कर उन्हें उन्हें तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए.

Leave a Reply