विजिलेंस ने खाद्य आपूर्ति विभाग के दो कर्मचारियों को 9600 रुपए रिश्वत लेते हुए किया गिरफ्तार

0
47

हमीरपुर। हिमाचल प्रदेश राज्य खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति निगम के दो कर्मचारियों को विजिलेंस (vigilance) ने रिश्वत लेते पकड़ा है। विजिलेंस ने उन्हें 9600 रुपए लेते रंगे हाथ पकड़ा है। इन कर्मचारियों पर केस दर्ज कर गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है। इन दोनों आरोपियों की पहचान सन्नी कुबेर (Sunny Kuber) और कपिल देव (Kapil Dev) के रूप में हुई है। सन्नी कुबेर राज्य नागरिक आपूर्ति निगम नादौन स्थित गोदाम में लिपिक के पद कार्यरत है, वहीं कपिल देव सार्वजनिक वितरण सहायक है। इस गोदाम से नादौन विधानसभा इलाके की 43 उचित मूल्यों की दुकानों को सप्लाई होती है। राशन की सप्लाई हेतु खाद्य नागरिक निगम हर वर्ष निजी वाहनों को कांट्रैक्ट पर ढुलाई का कार्य देता है।

इसी आधार पर हमीरपुर (Hamirpur) निगम ने खाद्य सामग्री की ढुलाई हेतु निजी वाहनों को काम दिया था। इस संबंध में ट्रक संचालक राजेश कुमार ने राज्य सतर्कता एवं भ्रष्टाचार रोधी ब्यूरो हमीरपुर ब्यूरो को एक शिकायत पत्र भेजा था। इसमें उसने दोनों कर्मचारियों पर 9600 रुपए रिश्वत मांगने का आरोप लगाया था। इस पर डीएसपी विजिलेंस लालमन शर्मा ने इंस्पेक्टर अंकुर शर्मा की अगुवाई में एक टीम का गठन किया। इन आरोपियों को पकड़ने के लिए विजिलेंस ने जाल बिछाया और शिकायतकर्ता को केमिकल लगा नोटों का बंडल थमा दिया। जब राजेश गोदाम में पहुंचा तो कपिल देव ने क्लर्क सन्नी कुबेर को पैसे देने की बात कही। जैसे ही पैसे और उसने अपनी जेब में डाले तो विजिलेंस ने तुरंत उसे पकड़ लिया।वहीं इस संबंध में एसपी विजिलेंस राहुल नाथ ने कहा कि कि विजिलेंस ने विभिन्न धाराओं का केस दर्ज किया है और दोनों कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं राज्य खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति निगम हमीरपुर के एरिया मैनेजर संजीव वर्मा ने कहा कि इसकी रिपोर्ट उच्च अधिकारियों को भेज दी है। गोदाम में अस्थायी नियुक्तियां की गई हैं।

Leave a Reply