हिमाचल से दिल्ली में गांजा सप्लाई करने वाले तीन तस्कर, एक करोड़ के गांजा के साथ गिरफ्तार

0
73

दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने मादक पदार्थों की तस्करी करने वाले एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है, जो हिमाचल प्रदेश से गांजा लाकर दिल्ली-एनसीआर में सप्लाई करता था। पुलिस ने इस गिरोह के सरगना समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से बढ़िया क्वालिटी का 1.1 किलोग्राम गांजा बरामद किया गया है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में बरामद गांजे की कीमत करीब एक करोड़ रुपये बताई जा रही है।

अपराध शाखा के पुलिस अधिकारियों के अनुसार एसीपी अरविंद कुमार की टीम में तैनात एएसआई सचिन सिंह को दो अगस्त को सूचना मिली थी कि इकराम संगठित तरीके से मादक पदार्थों की तस्करी करने वाला गिरोह चला रहा है। वह हिमाचल प्रदेश से गांजा मंगाता है। पुलिस टीम ने मुकरबा चौक, बाहरी रिंग रोड पर घेराबंदी की। यहां पर गांजे की खेप लेकर आए आरोपी अशोक कुमार उर्फ लाला (59) को गिरफ्तार कर लिया। इसने हाथ में सूटकेश ले रखा था। सूटकेश से 1.100 किलो गांजा बरामद किया गया। उसने बताया कि वह इकराम के लिए काम करता है। अशोक ने पुलिस की उपस्थिति में इकराम को फोन किया और गुड्डू को गांजे की खेप देने की बात कही।

पुलिस टीम अशोक के साथ वेलकम पुलिया पहुंची और आरोपी गुड्डू (40) को गिरफ्तार कर लिया। गुड्डू के घर से 85 हजार रुपये, पैकिंग मेरेरियल समेत अन्य सामान बरामद किया गया। इनसे पूछताछ के बाद पुलिस टीम भरतपुर, राजस्थान रेलवे स्टेशन पहुंची और आरोपी इकराम को गिरफ्तार कर लिया। उसने पूछताछ में बताया कि वह बहुत समय से संगठित तरीके से गिरोह को चला रहा था। उसके गिरोह में काफी लोग शामिल हैं और सभी को अलग-अलग काम सौंपा हुआ है। अंबेडकर चौपाल, गांव बहादुरगढ़, जिला हापुड़, गुढमुक्तेश्वर यूपी निवासी मोहम्मद इकराम के पिता की मृत्यु उस समय हो गई थी, जब वह 13 वर्ष का था। वर्ष 2005 में ये गलत संगत में पड़ गया और नशा लेने का आदि हो गया। कपड़े के व्यवसाय में भारी घाटा होने के कारण ये गांजे की सप्लाई करने लगा।

Leave a Reply