गाली गलौच पर उतरी भाजपा के गालीबाज नेता की पत्नी, धमकाया था, कुत्ता छोड़ देंगे, Omaxe सोसाइटी के लोगों की आपबीती

0
49

Shrikant Tyagi Case: उत्तर प्रदेश के नोएडा की ओमैक्स ग्रांड सोसायटी में महिला से गाली-गलौज और बदतमीजी के मामले में गालीबाज श्रीकांत त्यागी के फ्लैट पर सोमवार को बुलडोजर चला।

नोएडा अथॉरिटी की इस कार्रवाई के बाद सोसायटी में पीड़िता के दोस्त-यार और आसपास रहने वाले लोगों के चेहरों पर कुछ हद तक मुस्कान और संतुष्टि नजर आई।

सोसायटी की महिलाओं ने इस दौरान अपनी आपबीती साझा करते हुए बताया कि त्यागी का परिवार भी झगड़ालू रहा है। बच्चों की लड़ाई के मसले पर दो साल पहले वह किसी के घर बाउंसर लेकर लड़ने-झगड़ने पहुंच गई थीं। यही नहीं, अपने फ्लैट के आसपास बने पार्क में वे लोग किसी को आने भी नहीं देते थे।

औरतों के अनुसार, जो वहां जाता था उसे धमकाते थे कि अपना पालतू कुत्ता छोड़ (हमले के लिए) देंगे। पूरी सोसायटी में त्यागी परिवार ने कथित तौर पर अपनी धौंस जमा रखी थी। हालांकि, इन लोगों को पूरी उम्मीद है कि उसके फ्लैट के बाहर अवैध निर्माण तोड़े जाने के साथ ही उसे भी गिरफ्तार किया जाएगा।

‘अब लग रहा है सरकार हमारे साथ’

मीडिया से बातचीत के दौरान सोमवार को सोसायटी में रहने वाली महिलाओं ने बताया- देर आए, दुरुस्त आए…पर यह अच्छा हुआ। सीएम योगी ने ये सब किया, जिसकी वजह से यहां के लोग खुश हैं। हमारा अब विश्वास बढ़ा है। लगा है कि चलो, हमारे साथ भी कोई है। वरना पहले तो लगता था कि हमारे संग कोई नहीं है और हम बस चिल्लाए जा रहे हैं। अंदर से खुशी तो हुई है कि हम दबंग तो नहीं हैं, पर एकसाथ हैं तो बहुत कुछ कर सकते हैं। सरकार ने साबित किया वह हमारे साथ है और गलत होने पर एक्शन लिया जाएगा। हमारी गुजारिश है कि त्यागी को जल्द से जल्द पकड़ा जाए।

‘ये तो 50% एक्शन, पर सबके लिए सबक’

हालांकि, सोसायटी में मिठाई बंटने के दौरान कुछ महिलाएं ऐसी भी थीं, जिन्होंने खुशी मनाने और मीठा खाने से इन्कार कर दिया। वे बोलीं- अभी तो आधी लड़ाई जीती है। जब तक त्यागी गिरफ्तार नहीं किया जाता है, तब तक हम मुंह मीठा नहीं करेंगे। पुलिस की ओर से देरी की जा रही है। वह अंदर नहीं हुआ है फिर भी सोसायटी में गुंडे घुस आए हैं। वैसे, आज की कार्रवाई से वह संतुष्ट हैं और यह एक तरह से सबके लिए सबक जैसा है।

दो साल पहले भी आए थे शर्मा, पर मिला था सिर्फ आश्वासन: लोग

औरतों ने बताया, “हमारी सोसायटी में गुंडागर्दी हुई है। दोस्त के घर वे लोग जा रहे हैं और खुलेआम गुंडागर्दी करते हैं। क्या सेफ्टी है…? कोई सुरक्षा नहीं है। आप तालियां बजा रहे हैं और जश्न मना रहे हैं, पर थोड़ा ही तो तोड़ा है। और तो कुछ नहीं किया है। हमारी प्राथमिकता यह है कि पीड़िता अब सुरक्षित रहे। त्यागी यहां कभी-कभी देखे जाते थे। उन्हें अक्सर जिम में देखा गया है। परिवार यहां रहते हैं। महेश शर्मा दो साल पहले भी आए थे और आश्वासन देकर गए थे कि ये सारी चीजें हटा दी जाएंगी। पर उसके बाद लॉकडाउन हो गया और कोई कार्रवाई न हुई।”

झगड़ालू है त्यागी का परिवार! कहता था- कुत्ता छोड़ देंगे

सोसायटी में रहने वाली एक महिला ने आरोप लगाया, “त्यागी का परिवार वहां किसी से भी लड़ने के लिए पहुंच जाता था। वे सबको धमका कर रखते थे। उनके परिसर में कोई एंट्री नहीं कर सकता था। जो भी वहां जाता था, वे लोग उससे कहते थे कि अपना कुत्ता छोड़ देंगे। ऐसे में यह कार्रवाई बेहद जरूरी थी।”

CM ने नीति को फिर कर दिया साफ- बीजेपी MP

उधर, बीजेपी सांसद हरनाथ सिंह यादव ने कहा- यूपी सीएम की स्पष्ट नीति है कि गुंडे और अपराधी यूपी की जमीन पर गुंडई नहीं कर सकते हैं। वे अगर गुंडई करेंगे, तो उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी और उसका सबसे ताजा उदाहरण यही है कि उसने दो दिन पहले महिला को गाली दी थी और सरकार ने आज ही सवेरे उसके फ्लैट के बाहर बुलडोजर पहुंच गया।

Leave a Reply