स्कूल की चतुर्थ श्रेणी महिला कर्मीचारी को थप्पड़ मारने वाला अध्यापक पुलिस के साथ उलझा, SI की वर्दी फाड़ी

0
121

ऊना/पांवटा। उपमंडल बंगाणा के एक सरकारी स्कूल में चतुर्थ श्रेणी महिला कर्मचारी को थप्पड़ (Slapped) मारने वाला अध्यापक (Teacher) गुरुवार को पुलिस के साथ भी उलझ पड़ा।

इस दौरान आरोपी ने पुलिस के एसआई (SI) की वर्दी भी फाड़ दी। इस हाथापाई में एसआई की वर्दी के वटन टूट गए। वहीं बीच बचाव करने पर स्थानीय पंचायत प्रधान व उप प्रधान के साथ भी आरोपी ने धक्का मुक्की है। स्थानीय लोगों की मदद से आरोपी को पुलिस ने काबू किया। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। बता दें कि सरकारी स्कूल के एक शिक्षक (Govt School Teacher) ने चाय को लेकर चतुर्थ श्रेणी महिला कर्मचारी को थप्पड़ जड़ दिए थे। प्रधानाचार्य द्वारा कोई कार्रवाई ना होने के बाद मामला पुलिस के पास पहुंचाए गुरुवार को पुलिस ने महिला कर्मी व आरोपी शिक्षक को बंगाणा पुलिस स्टेशन बुलाया।

आरोप है कि पहले आरोपी पुलिस के सामने महिला कर्मी को थप्पड़ मारने की बात को झुठलाता रहा। बाद में अचानक वह भागने का प्रयास करने लगा। मौके पर मौजूद एसआई ने आरोपी को रोकने की कोशिश की, तो उसने पहले एसआई की वर्दी के बटन तोड़ दिए। बीच बचाव करने आए सिहाणा पंचायत प्रधान सुनील कुमार तथा उप प्रधान मंजीत सिंह के साथ भी धक्का मुक्की की और भाग कर गाड़ी में बैठ गया। जैसे ही गाड़ी भगाने की कोशिश करने लगाए तो स्थानीय लोगों ने पकड़ कर गाड़ी से नीचे उतार कर पुलिस के हवाले किया। बताया जा रहा है कि उक्त अध्यापक आर्मी से सेवानिवृत्त होकर स्कूल प्रवक्ता के पद पर सेवाएं दे रहा है। एएसपी ऊना प्रवीण धीमान ने बताया कि आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

ऊना (Una) जिला के हरोली के दुलैहड़ में कांग्रेस कार्यकर्ता रविंद्र सेठी की हत्या (Murder) के मामले में पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए चार आरोपियों को अदालत ने 28 सितंबर तक पुलिस रिमांड (Police Remand) पर भेज दिया है। पुलिस ने इस आरोपियों में से तीन को पंजाब के अलग-अलग जिलों से व एक को राजस्थान से काबू किया है। चार आरोपियों में से तीन वारदात में शामिल रहे और एक ने वारदात के बाद आरोपियों को नई सिम मुहैया करवाई। पुलिस इन सभी से सख्ती के साथ पूछताछ कर रही है। रिमांड (Remand) पर भेजे दो आरोपियों को दूसरी बार और अन्य दो को पहली बार रिमांड पर भेजा गया है। बताया जा रहा है कि पुलिस इन आरोपियों से अलग.अलग और एक साथ बिठाकर पूछताछ कर रही है। अब वारदात में शामिल एक आरोपी की पुलिस को तलाश है। पुलिस अधीक्षक अर्जित सेन ठाकुर ने बताया कि मामले में पुलिस की जांच तेजी से आगे बढ़ रही है। जल्द और गिरफ्तारियां होंगे। पकड़े गए आरोपियों से लगातार पूछताछ जारी है जिसमें वारदात से जुड़े कई खुलासे हुए हैं।

पांवटा साहिब। उपमंडल के तहत केदारपुर में 30 साल के एक युवक ने किराये के घर में फंदे से लटककर आत्महत्या (Suicide) कर ली। छानबीन के दौरान पुलिस को सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। उधर, पुलिस मामले की तफ्तीश में जुट गई है। जानकारी के अनुसार आशीष तोमर पुत्र मिजान सिंह तोमर किराये के मकान में फंदे से झूल गया। सूचना मिलते ही पुलिस मकान मालिक राजेश राणा व संजय राणा के घर पहुंची। मृतक आशीष कुमार के पिता ने पुलिस को बताया कि उनके बेटे ने किचन में दुपट्टे से फंदा लगा लिया है। जांच में पुलिस ने पाया कि मृतक के शरीर पर चोट इत्यादि के निशान नहीं पाए गए। इस दौरान जांच में जुटी पुलिस टीम को आशीष द्वारा लिखा सुसाइड नोट भी बरामद हुआ, जिसमें उसने अपनी मौत के लिए स्वयं को जिम्मेदार ठहराया। सुसाइड नोट (Suicide note) में लिखा है कि वह निजी कारणों से जीवन लीला समाप्त कर रहा है, इसके लिए किसी को दोषी ना ठहराया जाए। लिखा था कि मैं जिंदगी से निराश हूंए मुझे माफ़ कर देना। जांच में पाया गया कि युवक नशे का आदी था। नौकरी ना मिलने के चलते मानसिक तौर पर परेशान था। डीएसपी वीर बहादुर ने युवक के फंदे से झूल आत्महत्या की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि शव का पोस्टमार्टम करवाया जा रहा हैं।

Leave a Reply