आगरा से शुरू हुई प्रेम कहानी का झांसी में हुआ अंत, 10 साल बाद मिला महिला का शव

0
34

झांसी: उत्तर प्रदेश के जिले झांसी में महिला की मौत का हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। शहर में एक महिला को झांसी के युवक से आगरा में मुलाकात हुई। उसके बाद दोनों ने परिवार की रजामंदी से शादी कर दी।

दरअसल झांसी का युवक कंप्टीशन की तैयारी करने की तैयारी करने आया तो एक लड़की से प्यार हो गया, लेकिन करीब 10 साल बाद अब लड़की फांसी के फंदे पर लटकी मिली है। बेटी को इस हालत में देख परिजनों ने ससुरालीजनों पर हत्या का आरोप लगाया है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

12 साल पहले कंप्टीशन की तैयारी में हुई थी मुलाकात
जानकारी के अनुसार शहर के प्रेमनगर थाना क्षेत्र के अंबेडकर नगर निवासी जितेंद्र वर्मा बी-टेक पास है। 12 साल पहले वह कंप्टीशन की तैयारी के लिए आगरा गया था। दोनों साथ में ही कोचिंग कर रहे थे और यहीं जगदीशपुरा थानाक्षेत्र के लोकेंद्रपुरी निवासी मनीषा (33) भी पढ़ने आती थी। दोनों के बीच दोस्ती हो गई। जो कुछ दिन बाद ही प्यार में बदल गई। दोनों शादी करना चाहते थे। परिवार की रजामंदी के बाद शादी हो गई। मृतका के भाई प्रदीप कुमार ने बताया कि दोनों परिवारों ने रजामंदी से शादी की थी। उन्होंने बहन मनीषा की शादी में करीब 15 से 20 लाख रुपए खर्च किए थे। महिला के दो बच्चे है, 8 साल का कृत्यांश और 4 साल का काव्यांश है।

बिजनेस शुरू करने के लिए रखी 15 लाख की डिमांड
इतना ही नहीं प्रदीप कुमार ने आरोप लगाया कि शादी के छह महीने बाद ही ससुराल वाले पैसों की डिमांड करने लगे। पिछले दो साल से उत्पीड़न भी बढ़ गया था। कई बार पैसे भी दिए। इतना ही नहीं एक साल पहले ही पति ने सरकारी जॉब नहीं लगने पर बिजनेस शुरू करने के लिए 15 लाख रुपए की डिमांड भी की थी। मृतका के भाई के अनुसार मंगलवार को उनको फोन पर बताया कि मनीषा ने फांसी लगा ली। जिसके बाद मायके पक्ष के लोग बेटी के ससुराल पहुंच गए। लेकिन महिला के परिजनों का आरोप है कि मनीषा फांसी नहीं लगाई है बल्कि उसकी हत्या की गई है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।

Leave a Reply