पुलिस कर्मी ने महिला से दुष्कर्म कर बनाया अश्लील वीडियो, करता रहा ब्लैकमेल, मामले में 7 पुलिस कर्मी लाइन हाजिर

0
41

रायबरेली। बिजनौर जिले की रहने वाली शादीशुदा महिला के साथ रायबरेली में तैनात सिपाही ने न सिर्फ दुष्कर्म किया, बल्कि अश्लील वीडियो बनाकर उसे ब्लैकमेल करता रहा। जब पीड़िता शिकायत करने के लिए रायबरेली पहुंची तो गुरुबख्शगंज थाने में तैनात अन्य पुलिसकर्मियों ने आरोपी सिपाही की शिकायत न करने के लिए महिला को धमकाते हुए जानमाल की धमकी दी।

थाने में सुनवाई नहीं हुई तो पीड़िता ने कोर्ट का सहारा लिया। कोर्ट के आदेश पर बिजनौर पुलिस ने सात सिपाहियों समेत नौ लोगों के खिलाफ दुष्कर्म किए जाने, घर में घुसकर मारपीट करने, साजिश रचने और जान से मारने की धमकी देने समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। पुलिस अधीक्षक रायबरेली ने गुरुबख्शगंज थाने में तैनात तीन महिला सिपाहियों समेत सात पुलिस कर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया है।

बिजनौर जिले के धामपुर थाना क्षेत्र निवासी महिला ने बिजनौर जिले की कोर्ट में प्रार्थनापत्र देकर बताया कि फेसबुक के जरिए उसकी दोस्ती बिजनौर जिले के धामपुर थाना क्षेत्र के मोरना गांव निवासी ठाकुर केशव प्रताप के साथ हुई थी। ठाकुर केशव प्रताप रायबरेली के गुरुबख्शगंज थाने में सिपाही के पद पर तैनात है।

बीती चार मार्च 2022 को वह घर पर अकेली थी, तभी सिपाही घर आ गया। उसने उसके साथ दुष्कर्म किया और अश्लील वीडियो बनाई। इसके बाद जानमाल की धमकी देते हुुए फरार हो गया। सात मार्च 2022 को गुरुबख्शगंज थाने शिकायत लेकर पहुंची तो वहां पर तैनात अन्य पुलिस कर्मियों ने शिकायत न करने के लिए दबाव बनाया और धमकाया।

बिजनौर कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने सात नामजद, जबकि दो अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया। मामले में एसपी आलोक प्रियदर्शी ने गुरुबख्शगंज थाने में तैनात सिपाही ठाकुर केशव प्रताप, रवि, शक्ति, गोविंद, महिला सिपाही नेहा, चारू, प्रीति को लाइन हाजिर कर दिया है।

एसपी ने बताया कि बिजनौर जिले में दर्ज किए गए मामले की जांच और विवेचना प्रभावित न हो, इसलिए सात पुलिस कर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया गया है। साथ ही प्रकरण की प्रारंभिक जांच अपर पुलिस अधीक्षक विश्वजीत श्रीवास्तव को सौंपी गई है। एएसपी की जांच रिपोर्ट के आधार पर मामले में आगे की कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply