देवर के प्यार में पागल पप्पू प्लंबर की पत्नी ने करवाई उसकी हत्या, गोली से नही मरा तो चाकू से गुदवाया

0
31

बिहार के किशनगंज में पप्पू प्लम्बर की हत्या की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है,. पुलिस का दावा है प्लम्बर पप्पू की हत्या उसकी पत्नी ने ही देवर के प्यार में करवाई थी.

दरअसल पप्पू प्लम्बर ने जिस पत्नी को अग्नि को साक्षी मानकर साथ जन्मों तक साथ निभाने का वादा किया था वह पत्नी किसी गैर मर्द के प्यार में बेवफा हो गई. और उसने पति की शूटर हायर कर हत्या करवा दी. जबकि पति उसे जी जान से प्यार करता था. इतना प्यार, इतना भरोसा कि जब उसे गोली लगी थी तब भी उसने किसी और को नहीं बल्कि अपनी पत्नी को फोन कर गोली लगने की बात कही थी. जबकि वह जानता था कि उसकी पत्नी वेवफा है और उसका उसके देवर के साथ चक्कर है. पति का पत्नी पर यही भरोसा उसकी मौत की वजह बन गई, नहीं तो वह गोली लगने के बाद भी बच सकता था क्योंकि शूटर उसे मरा मानकर चले गए थे.

पुलिस के मुताबिक जब प्लम्बर पप्पू को शूटर गोली मार कर चले गए तब पप्पू ने फोन कर पत्नी को कहा कि उसे गोली लगी है वो जल्दी से उसकी मदद के लिए आ जाए. इसके बाद बेवफा पत्नी ने फोन कर शूटर को कहा कि वो वापस जाएं क्योंकि शिकार अभी जिंदा है. तब दोबारा पहुंचे शूटर ने चाकू से पप्पू की हत्या कर दी.

देवर के प्यार में पति की ले ली जान

दरअसल 26 जुलाई की रात पूरबपाली के पास एमजीएम मेडिकल कॉलेज से काम कर घर लौट रहे पप्पू गुप्ता की बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी. पप्पू गुप्ता उर्फ प्लम्बर पप्पू की हत्या उसकी पत्नी ने अपने देवर के साथ मिलकर की थी. पप्पू गुप्ता की पत्नी प्रीति जो बीएससी नर्सिंग होम में तीसरे वर्ष की छात्रा है ने देवर राजकुमार गुप्ता के साथ मिलकर पति की हत्या की साजिश रची थी.

नवगछिया से बुलाया गया था शूटर

प्लम्बर पप्पू की हत्या के लिए भागलपुर के नवगछिया से शूटर्स को बुलवाया गया. इसके बाद एक लाख रुपए में डील डन हुआ फिर हत्या के लिए 20 हजार रुपए पेशगी दी गई. बांकी रकम काम होने के बाद देने की तय हुई. इसके बाद स्कार्पियो से सात बदमाश किशनगंज पहुंचे. इस दौरान प्रीति अपने पति से बातकर उसका लोकेशन लेकर शूटर को बताती रही. इसके बाद सुनसान जगह पर शूटर ने उसे गोली मार दी. जब गोली लगने की बात पप्पू गुप्ता ने पत्नी को बताई तो पत्नी ने दोबारा शूटर को फोन किया और कहा कि काम खत्म नहीं हुआ है. जिसके बाद शूटर दोबारा मौका-ए-वारदात पर पहुंचे और चाकू से गोदकर पप्पू की हत्या कर दी.

Leave a Reply