ससुराल वालों को नशीला पदार्थ खिलाकर प्रेमी संग फरार हुई नवविवाहिता पत्नी

0
42

RIGHT NEWS INDIA: उत्तर प्रदेश के संभल जिले में एक नव विवाहिता कैश और जेवर लेकर रफूचक्कर हो गई. आरोप है कि नव विवाहिता ने ससुराल वालों को भोजन और दूध में नशीली चीज मिलाकर दे दी. इसके बाद छत की ग्रिल से साड़ी बांधकर उसके सहारे बाहर उतरकर प्रेमी के साथ फरार हो गई. इस मामले की शिकायत मिलने पर पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है.

जानकारी के अनुसार, यह मामला संभल जिले के सदर कोतवाली क्षेत्र के हल्लू सराय का है. हल्लू सराय के युवक की शादी चार माह पहले मध्य प्रदेश शिवपुरी की रहने वाली युवती मनीषा के साथ हुई थी. आरोप है कि युवती का पहले से शिवपुरी के एक युवक के साथ प्रेम-प्रसंग चल रहा था. वह पति से छुटकारा पाना चाहती थी.

पीड़ित युवक का कहना है कि उसकी पत्नी ने 1 सितंबर को भोजन और दूध में कोई नशीली चीज मिलाकर दे दी. जब पूरा परिवार रात को नशीली चीज का असर होने के बाद सो गया तो उसने घर में रखे 70 हजार रुपए कैश और जेवरात समेट लिए. इसके बाद उसने मकान की छत पर लगी ग्रिल में साड़ी बांधकर बाहर की ओर लटकाई और उसी के सहारे नीचे उतर गई. वह अपने प्रेमी हर्ष शर्मा के साथ रात में ही फरार हो गई.

जब सुबह पीड़ित युवक और उसके परिजन की नींद खुली तो वे घर का नजारा देख हैरान रह गए. पीड़ित ने देखा कि दूसरी मंजिल से एक साड़ी बालकनी की ग्रिल से बंधी नीचे लटक रही है. इसके बाद पीड़ित ने पत्नी की तलाश शुरू की. जब वह नहीं मिली तो आसपास के CCTV फुटेज देखे तो पता चला कि नव विवाहिता रात में किसी युवक के पीछे चल रही है. पीड़ित युवक का दावा है कि वह युवक शिवपुरी का हर्ष शर्मा है. इस मामले को लेकर पीड़ित ने पुलिस से शिकायत की है.

पीड़ित युवक बोला- दूध पीने से नींद आ गई

पीड़ित युवक ने कहा कि रात में दुल्हन ने मुझे दूध दिया था, इसके बाद नींद आ गई. उसका पहले से किसी के साथ चक्कर चल रहा था. वह नकदी जेवर लेकर प्रेमी के साथ भागी है. CCTV में हर्ष शर्मा नाम के युवक के साथ जाती दिखाई दे रही है. वहीं इस मामले में ASP अलोक कुमार जायसवाल ने कहा कि संभल हल्लूसराय के एक व्यक्ति तहरीर दी है कि उसकी पत्नी घर की छत से साड़ी बांधकर उसके सहारे निकलकर अपने प्रेमी के साथ नकदी और जेवर लेकर फरार हो गई है. इस मामले में केस दर्ज कर लिया गया है. मामले की जांच की जा रही है.

Leave a Reply