मेडिकल कॉलेज के हॉस्टल में जूनियर छात्रों को लाइन में खड़ा कर मारे थप्पड़, 6 सीनियर छात्र निलंबित

0
42

भोपाल: मध्य प्रदेश के रतलाम के शासकीय मेडिकल कॉलेज के हॉस्टल में जूनियर्स के साथ रैगिंग वाला एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। वीडियो में यह देखा जा रहा है कि सीनियर्स रैगिंग के नाम पर जूनियर्स को लाइन में खड़ा कर उन्हें थप्पड़ मार रहे है। वहीं कुछ छात्रों पर यह भी आरोप लगा है कि उन लोगों ने वॉर्डन पर शराब की बोलते भी फेंकी है।

इस मामले में कॉलेज ने कार्रवाई की है और सीनियर्स को कॉलेज और हॉस्टल दोनों से एक साल के लिए निष्कासित कर दिया है। पुलिस में मामले को दर्ज कराया गया है।

क्या है पूरा मामला

सोशल मीडिया पर रतलाम के शासकीय मेडिकल कॉलेज का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें कुछ सीनियर्स द्वारा जूनियर्स को लाइन में खड़ा कराते हुए देखा गया है। वीडियो में आगे देखा गया है कि सीनियर्स जूनियर्स को एक-एक करके थप्पड़ मार रहे है।

इस वीडियो को किसी ने छुप कर बनाया है ताकि थप्पड़ मार रहे सीनियर्स को इसका पता न चल सके। यही कारण भी है कि वीडियो थोड़ा साफ भी नहीं है।

इन सीनियर्स के खिलाफ हुई है कार्रवाई

कॉलेज द्वारा सीनियर्स के खिलाफ कार्रवाई हुई है। जिन छात्रों पर कार्रवाई हुई है उन में मुकेश निनामा ,पियूष पाटीदार, करण मेडा, सावन कलमे, निलेश पाटीदार और दीपक निगवाल भी शामिल है। इन पर थाने में मामला भी दर्ज हुआ है।

घटना पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने क्या कहा

वहीं इस घटना पर बोलते हुए चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास कैलाश सारंग ने कहा कि कानून के मुताबिक, रैगिंग पर बैन लगा हुआ है। ऐसे में अगर कोई शिकायत मिली है तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने यह भी कहा है कि वे इस मामले की जांच करेंगे और उचित कदम भी उठाएंगे क्योंकि इस तरह की घटनाएं बिल्कुल भी स्वीकार्य नहीं हैं।

Leave a Reply