गैंग ने आदिवासी युवक पर किया जानलेवा हमला, आदिवासी समाज ने कैलेक्ट्रेट ऑफिस के बाहर इंसाफ के लिए किया प्रदर्शन

0
65

उदयपुर. जिले में कुछ दिनों पूर्व सुखेर थाना इलाके के कविता गांव में बीएसएफ कैम्प के समीप एक गैंग के सदस्यों ने आदिवासी युवक प्रकाश भील के पैरों पर कुल्हाड़ी से वार (axe attack on youth leg case) कर गंभीर रूप से घायल कर दिया. इस मामले में पीड़ित को न्याय दिलाने और आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी की मांग को लेकर गुरुवार को बड़ी संख्या में आदिवासी समाज के लोगों ने भील प्रदेश मुक्ति मोर्चा के नेतृत्व में कलेक्ट्रेट के बाहर प्रदर्शन (protest at Udaipur Collectorate) किया.

इससे पहले सभी समाज के लोग टाउन हॉल में एकत्रित हुए उसके बाद नारेबाजी करते हुए बड़ी संख्या में कलक्ट्रेट (tribal society people protest) पहुंचे. कलेक्ट्रेट के बाहर आदिवासी समाज के लोगों ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया. प्रदर्शन के दौरान आदिवासी नेताओं ने कहा कि पुलिस प्रशासन जल्द पीड़ित प्रकाश भील को न्याय दिलाए और हमले के आरोपियों को गिरफ्तार करे नहीं तो बड़ा आंदोलन होगा. इस दौरान आदिवासी समाज के लोगों ने विभिन्न मांगों को लेकर उदयपुर जिला कलेक्टर को ज्ञापन भी दिया. ज्ञापन में आदिवासी समाज के लोगों ने विभिन्न मुद्दों पर कार्रवाई की मांग की गई है.

समाज के लोगों की प्रमुख मांगें
प्रकाश भील पर जानलेवा हमला करने वाले सभी दोषियों को गिरफ्तार कर St/Sc Act. के साथ अन्य मुकदमे दर्ज कर कार्रवाई करने के साथ पीड़ित परिवार को उचित मुआवजा दिया जाए. पांचवी अनुसूची क्षेत्र में राज्यपाल के बिना अधिसूचना या फिर जनजाति परामर्श दात्री के प्रक्रिया के बिना दहेज भरण पोषण और तलाक के फर्जी मुकदमे तत्काल प्रभाव से निरस्त हो और कोर्ट यह स्पष्ट करें की ट्राइबल कानून के तहत कितने मुकदमे निरस्त किए. अनुसूचित क्षेत्र के गोगुंदा थाने में अधिक्तम आदिवासियों पर हो रहे अत्याचारों को ध्यान में रखते हुए थाने में 70% आदिवासी पुलिस कर्मी लगाए जाएं. उदयपुर के आस-पास क्षेत्रों में आदिवासियों पर भु-माफिया के अत्याचारों को रोकने के लिए विशेष टीम का गठन किया जाए जिसमें अधिकतम आदिवासी पुलिसकर्मी हों.

Leave a Reply