पत्नी ने शराब पीने से किया मना तो पति ने छुरी से काट दी नाक, खून से लथपथ हालत में पहुंची मायके

0

मुरादाबाद से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां शराब पीने से मना करने पर गुस्साए पति ने पत्नी की नाक छुरी से काट दी। अस्पताल में नाक पर टांका लगवाने के बाद पत्नी ने कटघर पुलिस से शिकायत की। आरोप लगाया कि ससुराल के लोग दहेज के लिए उसे काफी प्रताड़ित करते थे। इस बीच उसने पति को शराब छोड़कर नेक राह पर चलने की सलाह दी थी।

ताजपुर माफी निवासी मंतेश की शादी 12 जून 2016 को उत्तराखंड के उधमसिंहनगर जिले के बाजपुर निवासी राज मिस्त्री जोगेंद्र के साथ रीति-रिवाज से हुई थी। आरोप है कि शादी के बाद से ही ससुराल के लोग दहेज के लिए प्रताड़ित करते थे। पति के साथ सास संतोष, देवर राजकुमार दहेज में गाड़ी, टीवी फ्रिज और कूलर मायके से लाने के लिए दबाव बनाते थे। एक दिसंबर को पति शराब पीकर घर आया तो उसने नशा छोड़कर नेक राह पर चलने की सलाह दी। यही बात उसे बुरी लग गई। उसने छुरी से उसकी नाक पर वार कर दिया। बोला कि अब तुम मुझे सिखाएगी। उसकी नाक से खून गिरने लगा।

घायल महिला इलाज कराने के लिए मायके चली आई। मायके वालों ने अस्पताल में उसका तत्काल प्राथमिक उपचार किया। महिला को लेकर उसके दादा कलुआ कटघर थाने में आए। उन्होंने अपनी पौत्री की घटना के बारे में कटघर थाना प्रभारी मनीष सक्सेना को जानकारी दी। थाना प्रभारी ने महिला को इलाज के लिए तत्काल जिला अस्पताल भेज दिया। अस्पताल में आए मन्तेश के दादा कलुआ ने बताया कि हमलावर पति जोगेंद्र महीने में दस दिन काम करता है।

बाकी बीस दिन शराब ही पीता है। जिला अस्पताल के डॉक्टर अरुण तोमर ने घायल महिला का मेडिकल परीक्षण किया। बताया कि उसकी नाक पर तेज घाव किया गया है। उसकी नाक पर आधा दर्जन टांके लगे हैं। इस मामले में तहरीर के आधार पर कटघर पुलिस ने पति जोगेंद्र, सास संतोष और देवर राजकुमार के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है। थाना प्रभारी ने बताया कि घटना उत्तराखंड की है। पीड़ित महिला को न्याय दिलाने के लिए उन्होंने मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस इस मामले में विवेचना के आधार पर कार्रवाई करेगी।

Previous articleRatlam Accident; अनियंत्रित ट्रक ने राहगीरों और बाइक सवारों को कुचला, पांच की मौत, 11 अन्य घायल
Next articleभारत नेपाल सीमा के पास मजदूरों पर पत्थरबाजी, काली नदी पर बना रहे थे तटबंध, नेपाल सुरक्षाकर्मी बने मूकदर्शक

समाचार पर आपकी राय: