Treading News

सिद्धू मुसेवाला को मारने के लिए पाकिस्तान से ड्रोन के द्वारा मंगवाए थे हथियार, हत्यारों का खुलासा

Sidhu Moose wala murder case: पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला के हत्याकांड में पकड़े गए शूटर ने सनसनीखेज खुलासा किया है. शार्प शूटर ने पूछताछ में बताया कि मूसेवाला की हत्या 27 मई को करना चाहता था और इस मर्डर के लिए पाकिस्तान से हथियार आए थे. हत्याकांड में इस्तेमाल किए गए हथियार बरामद होना अभी बाकी है, जो हथियार बरामद हुए हैं वह सिर्फ बैकअप के लिए थे.

पाकिस्तान से आए थे हथियार

पुलिस सूत्रों के मुताबिक पूछताछ में यह सामने आया है कि दिल्ली पुलिस ने सोमवार को जो हथियार बरामद किए, वह सिर्फ बैकअप के लिए थे. जिन हथियारों से मूसेवाला की हत्या हुई, उनके बारे में अभी कुछ पता नहीं चल पाया है. मूसेवाला की हत्या में इस्तेमाल हुए हथियार पाकिस्तान से ड्रोन के जरिए आए थे. यह हथियार मूसेवाला की हत्या में शार्प शूटर्स को लीड करने वाले प्रियव्रत फौजी तक पहुंचाए गए थे.

स्पेशल सेल की पूछताछ में यह साफ हुआ है कि शार्प शूटर प्रियव्रत फौजी को ड्रोन के जरिए यह हथियार उपलब्ध कराए गए थे. फौजी ने यह भी बताया कि हत्याकांड में पकड़े मोनू डागर के जरिए वह गोल्डी बराड़ के टच में आया था. पूछताछ में शार्प शूटर्स ने बताया कि हत्या से 4 दिन पहले सुक्तर मानसा पहुंच गए थे और हत्या से दो दिन पहले 27 मई को मूसेवाला को मारने का प्लान तैयार किया गया था, क्योंकि उस दिन भी सिद्धू मूसेवाला बिना सिक्योरिटी के गाड़ी से बाहर निकले थे.

दो दिन पहले करना चाहते थे मर्डर

शूटर्स उसी वक्त मूसेवाला पर हमला करना चाहते थे. लेकिन शूटर्स तैयार नहीं हुए. इसकी वजह से यह प्लान फेल हो गया था. इससे पहले एक कबड्‌डी टूर्नामेंट के दौरान भी मूसेवाला की हत्या की प्लानिंग की गई थी. वह भी सिरे नहीं चढ़ सकी. उस वक्त भी शूटर्स कामयाब नहीं हो पाए. फिर 29 मई को मूसेवाला बिना सिक्योरिटी के बुलेटप्रूफ फॉर्च्यूनर की जगह थार जीप से गए तो शार्प शूटर्स ने मानसा के जवाहर गांव के पास उनकी हत्या कर दी.

मूसेवाला के मर्डर का कोड ‘ऑपरेशन वर्दी’ रखा हुआ था. असल में लॉरेंस बिश्नोई के कनाडा में बैठे साथी गैंगस्टर गोल्डी बराड़ ने मूसेवाला को घर में घुसकर मारने की प्लानिंग की थी. सूत्रों के मुताबिक इस हत्याकांड के लिए पंजाब से लंबी कद-काठी के 3 सिख युवकों को तैयार किया गया था. प्लानिंग यह थी कि सिद्धू मूसेवाला के घर में जाकर उसे गोली मारेंगे, हालांकि ऐसा मुमकिन नहीं हो सका और मूसेवाला को सरेआम गोलियां मारी गई थीं.

Comments: