जिस्मफरोशी की आड़ में दो युवतियों ने शिमला के 61 वर्षीय व्यक्ति से लूटे 15 हजार, चंडीगढ़ में हुई यह घटना

0
93

चंडीगढ़। जिस्मफरोशी की आड़ में दो युवतियों ने हिमाचल के एक व्यक्ति (Himachal Person) को लूट (Robbed) लिया। मामला हिमाचल के पड़ोसी राज्य चंडीगढ़ (Chandigarh) से सामने आया है।

यहां जिस्मफरोशी की आड़ में लुटेरी युवतियों का एक गिरोह सक्रिय है, यह युवतियां लोगों को अपने जाल में फंसाकर उनसे लूटपाट करती हैं। यह युवतियां रात के अंधेरे में राह चलते लोगों को अपना शिकार बनाती हैं। इन्हीं युवतियों का शिकार हिमाचल का भी एक व्यक्ति हुआ है। लुटेरी युवतियों ने हिमाचल के व्यक्ति से 15 हजार रुपए लूट लिए। हालांकि व्यक्ति की शिकायत पर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दो युवतियों को हिरासत में ले लिया है। पुलिस पूछताछ में इस मामले में कई बड़े खुलासे होने की उम्मीद है।

बताया जा रहा है कि यह युवतियां रात के अंधेरे में बस अड्डा, रेलवे स्टेशन, मार्केट और चौराहे पर जिस्मफरोशी की आड़ में लोगों को लूटती हैं। युवतियां जिस्मफरोशी का सौदा करके सामने वाले को अपनी पसंद के होटल में लेकर जाने के बहाने रास्ते में उनको लूट लेती थी। पुलिस द्वारा गिरफ्तार युवतियां 25 वर्षीय और 23 साल हैं। यह युवतियां हिमाचल के एक व्यक्ति को जिस्मफरोशी के जाल में फंसाकर आइटी पार्क एरिया में ले गईं और वहां पर उससे 15 हजार रुपए लूट लिए। व्यक्ति की शिकायत (Complaint) पर पुलिस ने दोनों को धर दबोचा है।

पुलिस के अनुसार हिमाचल के शिमला निवासी 61 वर्षीय व्यक्ति ने आइटी पार्क थाना पुलिस को शिकायत दी थी कि उसे दो युवतियों ने लूटा है। अपनी शिकायत में व्यक्ति ने बताया कि दोनों युवतियों उसे मनीमाजरा स्थित बस स्टैंड पर मिली थी। युवतियों ने उसे जिस्मफरोशी (Sex Racket) के बहाने फंसाकर दड़वा स्थित एक होटल में चलने को कहा। यह दोनों युवतियां उसे एक रिक्शा के माध्यम से होटल (Hotel) में ले जाने के चल पड़ी। इसी बीच शीतला माता मंदिर के पास युवतियों ने रिक्शा रूकवा दिया और उसे वापस भेज दिया। जिसके बाद उन्होंने मुझसे जबरन 15 हजार रुपए लूट लिए। व्यक्ति ने बताया कि घटना के बाद उसने शोर मचाया, जिस पर आसपास के लोग जमा हो गए और युवतियों को पुलिस के हवाले कर दिया। इसके बाद आइटी पार्क थाना एसएचओ रोहताश कुमार के सुपरविजन में पहुंची महिला पुलिस दोनों युवतियों को गिरफ्तार किया। उनसे लूटे गए 15 हजार रुपए भी बरामद किए गए।

पुलिस ने जब युवतियों से पूछताछ की तो उन्होंने बड़े खुलासे किए। उन्होंने बताया कि वह ट्राईसिटी में पिछले 5 साल से यह गिरोह चला रही हैं। उन्होंने बताया कि वह ज्यादातर रात के समय बस स्टैंडए रेलवे स्टेशन, बाजार सहित ऐसी जगहों पर जाती थी जहां ज्यादा भीड़ होती है। इसी तरह राह चलते लोगों को अपने जाल में फंसाकर उनसे लूटपाट करती थीं। इनके साथ गिरोह में अन्य युवतियां भी शामिल हैं। इतना ही नहीं रिक्शा, आटो चालक, टैक्सी ड्राइवर सहित होटल के कर्मचारी भी इनके लिए काम करते हैं। पुलिस इनसे पूछताछ कर पूरे नेटवर्क का पता लगाने में जुटी है।

Leave a Reply